सुप्रभा सक्सेना

कोलंबो, 28 अप्रैल (हि.स.)। श्रीलंका के जाफना जिले में स्थित कामाक्षी अम्मन कोविल मंदिर में एक धार्मिक उत्सव के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के आरोप में पुजारी सहित अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। श्रीलंका में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण 31 मई तक किसी भी प्रकार के सार्वजनिक कार्यक्रम पर रोक है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक धार्मिक उत्सव में शामिल होने वाले लोग न तो दो गज की दूरी का पालन कर रहे थे और न ही मास्क लगाए हुए थे। मंदिर परिसर में आयोजित धार्मिक उत्सव में शरीक होने के लिए आसपास के रहने वाले तमिल समुदाय के लोग पहुंचे थे। इस दौरान कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन हुआ।

पिछले हफ्ते सरकार ने ट्यूशन क्लासेज, सार्वजनिक कार्यक्रम और पार्टियों पर 31 मई तक रोक लगा दी। इसके अलावा स्वमिंग पूल, चिल्ड्रेन पार्क और कार्निवल पर भी 31 मई तक रोक लगाई गई है। सुपरबाजारों में क्षमता से 50 प्रतिशत लोगों को आने की अनुमति है। शादियों में 150 मेहमानों को आने की अनुमति है। जबकि अंतिम संस्कार में केवल 25 लोगों की।

हिन्दुस्थान समाचार
You Can Share It :