खेल

Blog single photo

मध्यप्रदेश की चिंकी ने रचा इतिहास, देश को मिली ओलम्पिक में पात्रता

08/11/2019

मुकेश तोमर
भोपाल, 08 नवम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी की प्रतिभावान स्पोर्ट्स पिस्टल खिलाड़ी चिंकी यादव ने दोहा में आयोजित 14वीं एशियाई शूटिंग चैम्पियनशिप में शुक्रवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत को टोक्यो ओलम्पिक-2020 के लिए क्वालिफाई करा दिया है। चिंकी ने क्वालिफाई करने के लिए 588 अंक हासिल किए, जिसमें एक ‘परफेक्ट 100’ भी शामिल है। वह थाईलैंड की नेपहासवान यांग पाइबून (590) के बाद दूसरे स्थान पर रहीं। ओलंपिक-2020 में भारत के लिए 25 मीटर स्पोर्ट्स पिस्टल स्पर्धा में चुनी गईं वह दूसरी खिलाड़ी है। इससे पहले राही सरनोबत ने इस वर्ष की शुरुआत में म्यूनिख में विश्व कप में जीत दर्ज करके ओलंपिक के लिए पात्रता का टिकट हासिल किया था ।

मध्य प्रदेश की बेटी ने रचा इतिहास
खेल और युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने चिंकी यादव के एशियाई शूटिंग चैम्पियनशिप में किए गए शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि देश को ओलम्पिक में क्वालिफाई करा कर चिंकी यादव ने इतिहास रचकर देश और प्रदेश को गौरवान्वित किया है। उन्होंने चिंकी यादव द्वारा इस उपलब्धि पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए चिंकी को बधाई और शुभकामनाएं दी है।

खिलाडिय़ों को मिल रहा है विश्व स्तरीय शूटिंग अकादमी का लाभ
खेल संचालक डॉ. एसएल थाउसेन ने चिंकी यादव के अद्वितीय प्रदर्शन करने और देश को ओलम्पिक के लिए क्वालिफाई कराए जाने पर हर्ष व्यक्त किया है । उन्होंने कहा कि विश्व स्तरीय शूटिंग अकादमी के माध्यम से खिलाडिय़ों को मिल रही उच्च स्तरीय खेल सुविधाएं और प्रशिक्षण का ही परिणाम है कि प्रदेश के शूटिंग खिलाड़ी विश्व स्तर पर देश का परचम फहरा रहे हैं। उन्होंने चिंकी यादव के शानदार प्रदर्शन की सराहना की और कहा कि मध्यम वर्गीय परिवार की होनहार खिलाड़ी चिंकी यादव ने साबित कर दिखाया है कि प्रतिभावान खिलाड़ी को आगे बढऩे से कोई नहीं रोक सकता है। हमें गर्व है कि चिंकी यादव ने मध्य प्रदेश का नाम रौशन किया है।

चिंकी यादव की उपलब्धियां
वर्ष 2012 में शूटिंग खेल में कैरियर बनाने का लक्ष्य लेकर प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में प्रवेश लेने वाली चिंकी यादव ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में देश को तीन स्वर्ण, दो रजत और पाँच कांस्य सहित दस पदक दिलाये हैं । उन्होंने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए सात बार अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भागीदारी भी की है। चिंकी यादव ने राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में छह स्वर्ण, सात रजत और नौ कांस्य पदक सहित 22 पदक मध्य प्रदेश को दिलाया है। इसके अलावा चिंकी ने एक स्वर्ण और तीन रजत पदक राज्य स्तरीय शूटिंग प्रतियोगिताओं में भी अर्जित किए हैं। चिंकी यादव मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक जसपाल राणा और सहायक प्रशिक्षक जयवर्धन सिंह चौहान से पिस्टल खेल का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं।

चिंकी ने किया माता-पिता का सपना साकार

चिंकी के पिता मेहताब सिंह यादव खेल और युवा कल्याण विभाग में इलेक्ट्रिशियन के पद पर कार्यरत हैं। मध्यम वर्गीय परिवार की चिंकी अपने माता-पिता के साथ तात्या टोपे स्टेडियम के आवासीय परिसर में निवासरत हैं। चिंकी बचपन से ही स्टेडियम में खिलाडिय़ों को शूटिंग की प्रैक्टिस करते देखा करती थी। यहीं से ही शूटिंग के प्रति उनका लगाव बढ़ता गया। चिंकी के छोटे भाई भी शूटर हैं। चिंकी यादव ने साल 2017 में जूनियर वर्ल्ड चैम्पियनशिप के दौरान कांस्य पदक अपने नाम किया था तब चिंकी के पिता मेहताब सिंह यादव ने कहा था कि शूटिंग काफी महंगा खेल है। मेरे पास इस खेल के इक्विपमेंट खरीदने के पैसे भी नहीं थे, लेकिन खेल विभाग ने मेरे परिवार की पूरी मदद की। उन्होंने बताया कि चिंकी ने शूटिंग खेल में अपने माता-पिता का सपना साकार किया है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top