व्यापार

Blog single photo

सीएजी मुर्मू आईपीयू के ऑडिटर चुने गए, 3 साल का होगा कार्यकाल

20/11/2020

प्रजेश शंकर

नई दिल्‍ली, 20 नवम्‍बर (हि.स.)। भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक गिरीश चंद्र मुर्मू अंतर-संसदीय संघ (आईपीयू) जिनेवा के एक्‍सटरनल ऑडिटर चुने गए हैं। अंतरराष्ट्रीय एजेंसी आईपीयू में सीएजी मुर्मू का कार्यकाल तीन साल का होगा। गिरीश चंद्र मुर्मू देश के 14वें सीएजी हैं। 

सीएजी गिरीश चंद्र मुर्मू स्विट्जरलैंड के सुप्रीम ऑडिट इंस्टिट्यूशन में जल्द ही पदभार ग्रहण करेंगे। ज्ञात हो कि मुर्मू ने बीते अगस्त माह में ही जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल पद से इस्तीफा दिया था। इसके बाद उन्हें सीएजी बनाया गया था। 

उल्‍लेखनीय है कि अंतर-संसदीय संघ एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है। मूल रूप से यह संगठन लोकतांत्रिक देशों की संसदों के बीच समन्वय बनाने के लिए काम करता है। संगठन का मुख्य उद्देश्य लोकतांत्रित प्रशासन को प्रमोट करना,  जवाबदेही तय करना, सदस्य देशों के बीच समन्वय स्थापित करना हैं। इसके साथ ही ये संगठन राजनीति में लैंगिक समानता, युवाओं की सहभागिता व सतत विकास को बढ़ावा देता है। 

हिन्‍दुस्‍थान समाचार


 
Top