क्षेत्रीय

Blog single photo

जनगणना-2021 के लिए उप्र में लगेंगे पांच लाख कर्मी

02/12/2019

- दूसरे चरण का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू, 29 जिलों के 90 मास्टर ट्रेनर शामिल
- तीसरे व अंतिम चरण का प्रशिक्षण 16 से 21 दिसम्बर तक

पीएन द्विवेदी 
लखनऊ, 02 दिसम्बर (हि.स.)। जनगणना-2021 के लिए राजधानी लखनऊ में सोमवार को दूसरे चरण का छह दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ। इस चरण में उत्तर प्रदेश के 29 जिलों के 90 मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षित किया जा रहा है। जनगणना के कार्य में प्रदेश के करीब पांच लाख कर्मी लगाये जाएंगे।  

राजधानी के दीनदयाल उपाध्याय ग्राम्य विकास संस्थान में निदेशक जनगणना कार्य, उप्र नरेंद्र शंकर पाण्डेय, ग्राम्य विकास संस्थान के महानिदेशक एस वेंकटेश्वर लू और सचिव सामान्य प्रशासन डा0 हरिओम ने संयुक्त रुप से प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस अवसर पर निदेशक जनगणना कार्य, उप्र नरेंद्र शंकर पाण्डेय ने कहा कि अद्यतन जनसंख्या और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर देश के विकास की दिशा तय करती है। उन्होंने बताया कि जनसंख्या के महत्व को देखते हुए ही जनसंख्या अधिनियम 1948 को देश में लागू किया गया है। 

निदेशक ने बताया कि द्वितीय चरण के प्रशिक्षण में प्रदेश के 29 जिलों के 90 मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि तीसरे व अंतिम चरण का प्रशिक्षण 16 से 21 दिसम्बर तक आयोजित होगा, जिसमें बाकि 17 जिलों के 60 मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रथम चरण में पिछले माह 29 जिलों से आए 90 ट्रेनर प्रशिक्षित हुए थे। उन्होंने बताया कि उप्र के सभी 75 जिलों से कुल 240 मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षित किया जाना है। यह कार्य 21 दिसम्बर तक पूर्ण कर लिया जाएगा।

सचिव सामान्य प्रशासन डॉ. हरिओम ने बताया कि जनगणना का कार्य केंद्र और राज्य सरकार के सामूहिक प्रयास से सम्पन्न कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश से इस कार्य में करीब पांच लाख प्रगणक एवं पर्यवेक्षक लगाये जाएंगे, जो राज्य सरकार की देखरेख में जनगणना का कार्य पूर्ण करेंगे। प्रशिक्षण प्राप्त मास्टर ट्रेनर आगे फिल्ड ट्रेनर को प्रशिक्षित करेंगे। फिर वे प्रगणक व पर्यवेक्षक को प्रशिक्षण देंगे। डॉ. हरिओम ने कहा कि जनगणना कार्य को जन अभियान बनाया जाएगा ताकि प्राप्त होने वाले आंकड़े सही हो सकें। 

उद्घाटन सत्र की अध्यक्ष्ता करते हुए संस्थान के महानिदेशक एस वेंकटेश्वर लू ने प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले सभी मास्टर ट्रेनर से कहा कि वे गंभीरता के साथ प्रशिक्षण प्राप्त करें तथा अपने जिलों में फिल्ड ट्रेनर सही ढंग से प्रशिक्षित करें। कार्यक्रम को उप महारजिस्ट्रार जनगणना प्रदीप कुमार और अन्य अधिकारियों ने भी संबोधित किया।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top