अपराध

Blog single photo

हिन्दू युवा वाहिनी के नेता की हत्या में दो दोस्त गिरफ्तार

01/12/2019

आदित्य कुमार 
नोएडा, 01 दिसम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के जिला गौतमुद्धनगर स्थित थाना दनकौर क्षेत्र में हिन्दू युवा वाहिनी के नेता संदीप नागर के हत्या की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने रविवार को उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है।  नागर की हत्या उसके इन्हीं दोनों दोस्तों ने मामूली विवाद में की थी 

एसपी देहात रणविजय सिंह ने बताया कि ईस्टर्न पेरिफेरल हाई-वे से सूरजपुर निवासी रोहित भाटी एवं रिंकू भड़ाना को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में पता चला कि कोतवाली क्षेत्र के अट्टा गुजरान गांव निवासी संदीप नागर एवं साकीपुर निवासी रोहित भाटी आपस में रिश्तेदार हैं चुहरपुर निवासी रिंकू भड़ाना रोहित का दोस्त है जिसके साथ संदीप अक्सर गाली गलौज करता था। यह बात रोहित भाटी को खराब लगती थी। इसी वजह से रोहित भाटी एवं संदीप के बीच 25 नवम्बर को झगड़ा भी हुआ था जिस पर रोहित एवं रिंकू ने संदीप को जान से मारने की धमकी दी थी। इस पर संदीप ने रोहित को थप्पड़ मार दिया था। 

रणविजय सिंह ने बताया कि इस घटना के बाद दूसरे दिन मंगलवार को रोहित भाटी एवं रिंकू भड़ाना ने संदीप को अपने साथ शराब पीने के लिए बुलाया। इसके बाद तीनों पूरी रात सूरजपुर, ग्रेटर नोएडा व कासना क्षेत्र की तरफ घूमते रहे। शराब पीने के बाद रोहित ने संदीप से माफी मांगने को कहा। इस पर संदीप गुस्से में गाली देने लगा।
उसके बाद रिंकू ने संदीप को पीछे की तरफ से पकड़ा और रोहित ने उसके सिर में गोली मार दी। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। उसके बाद शव को फेंककर दोनों फरीदाबाद चले गए। 
बुधवार तड़के बांध के पास खेतों में काम कर रहे लोगों ने शव मिलने की सूचना पुलिस और ग्रामीणों को दी। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने शव की शिनाख्त की। 

संदीप नागर के पिता वीरू ने पुलिस में अपनी शिकायत में कहा था कि करीब 10 माह पहले ग्रेटर नोएडा के साकीपुर निवासी बाप-बेटे चमन और रोहित ने संदीप से 5 लाख रुपये उधार लिए थे। पिछले कई दिनों से वह अपने उधारी के रुपयों की मांग कर रहा था लेकिन यह लोग रुपये देने में आनाकानी कर रहे थे। मंगलवार देर शाम रोहित और रिंकू भड़ाना फॉरच्यूनर एसयूवी लेकर गांव आए थे और संदीप को गाड़ी में बैठाकर अपने साथ ले गए। बुधवार सुबह उसका शव मिलने की सूचना मिली। प्राथमिक जांच में पुलिस ने दोस्तों के साथ शराब पीते वक्त हुए विवाद के बाद हत्या की आशंका जताकर इनकी गिरफ्तारी के लिए  दो टीमों का गठन किया था। दोनों आरोपित फरीदाबाद में छिपे रहने के बाद नेपाल जाने की फिराक में थे लेकिन पुलिस ने रविवार को दोनों को ईस्टर्न पेरिफेरल हाई-वे से गिरफ्तार कर लिया। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top