राष्ट्रीय

Blog single photo

इंदिरा गांधी इन्डोर स्टेडियम में 'वनवासी रक्षा परिवार कुंभ' रविवार को

20/02/2020

- दिल्ली समेत देश के 12 राज्यों के कार्यकर्ता लेंगे हिस्सा 

प्रतीक खरे 
नई दिल्ली, 20 फरवरी (हि.स.)। वनवासी रक्षा परिवार फाउंडेशन के तत्वावधान में रविवार (23 फरवरी) को दिल्ली के इंदिरा गांधी इन्डोर स्टेडियम में वनवासी रक्षा परिवार कुंभ का आयोजन किया जा रहा है। इसमें दिल्ली समेत देश के 12 राज्यों और दिल्ली के आसपास के शहरों से वनवासी जागरण एवं कल्याण के कार्य में लगे हुए कार्यकर्ता एवं प्रबुद्ध लोग भाग लेंगे। कुंभ का शुभारंभ अपराह्न तीन बजे से होगा।

फाउंडेशन के संगठन प्रभारी वीरेंद्र कुमार ने नई दिल्ली स्थित प्रेस क्लब में गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में बताया कि वनवासी रक्षा परिवार फाउंडेशन एकल अभियान के अंतर्गत देश के वनवासी जनजाति एवं पिछडे़ क्षेत्रों के चार लाख गांवों में बसे वनबंधुओं की धार्मिक अस्मिता, स्वाभिमान, स्वावलंबन और राष्ट्रवाद की भावना को प्रबल करने के लिए समर्पित है। आज देश में 70 हजार गावों में संगठन के संस्कार केंद्र चल रहे हैं। वनवासी समाज के जागरण तथा सशक्तिकरण का कार्य निरंतर जारी है। कुंभ में बड़ी संख्या में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने एवं फाउंडेशन के कार्यों से अवगत कराने के लिए दिल्ली-एनसीआर में 101 राष्ट्र-रक्षा-यज्ञ, गोष्ठी, समरसता सहभोज का आयोजन किया गया। इसका उद्देश्य नगरीय समाज को वनवासी क्षेत्रों की समस्याओं से जोड़ना है। वनवासी समाज की गरीबी, अशिक्षा एवं धर्मांतरण के प्रति प्रबुद्ध समाज का ध्यान आकृष्ट कर सहयोगी बनाने के लिए वनवासी रक्षा परिवार कुंभ का आयोजन किया जा रहा है। 

वनवासी रक्षा परिवार कुंभ-2020 के संयोजक हेमंत बत्रा ने बताया कि कुंभ में वनवासी क्षेत्र में फाउंडेशन द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी जाएगी। इसके साथ ही असम, हिमाचल प्रदेश तथा प्रशिक्षण केन्द्र के प्रशिक्षित वनवासी कार्यकर्ताओं द्वारा मंचीय प्रस्तुति दी जाएगी।

कुंभ के मंच पर देश के प्रमुख संत- स्वामी चिदानंद सरस्वती महाराज, महामंडलेश्वर आचार्य स्वामी अनुभूतानंद गिरि महाराज एवं गीता मनीषी ज्ञानानंद महाराज के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा, विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे आदि महानुभाव उपस्थित रहेंगे। 

हिन्दुस्थान समाचार 


 
Top