खेल

Blog single photo

पीयूष चावला ने स्कूली बच्चों संग खेला क्रिकेट, दिया सफलता का मंत्र

02/12/2019

श्रीधर त्रिपाठी
वाराणसी, 02 दिसम्बर (हि.स.)। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर पीयूष चावला ने सोमवार को स्कूली बच्चों संग क्रिकेट खेलकर उन्हें बॉलिंग करने का गुर भी सिखाया। सेठ एम. आर. जैपुरिया स्कूल्स बनारस के बाबतपुर परिसर में मोटीवेशनल कार्यक्रम ऊर्जा में पीयूष चावला ने पिच पर उतरते ही गेंदबाजी की। चावला ने इस दौरान बल्ले पर भी हाथ आजमाया और बच्चों की बालिंग पर चौके छक्के भी लगाये। क्रिकेटर ने बच्चों को सफलता का मंत्र भी दिया। 

उन्होंने कहा कि मेहनत करने वाले हमेशा सफल होते हैं। जो बच्चे खेल में ज्यादा रूचि रखते हैं उन्हें खेल के अलावा पढ़ाई में भी रूचि लेनी चाहिये। खेल और पढ़ाई के सामंजस्य से ही एक अच्छे व्यक्तित्व का निर्माण होता है। उन्होंने कहा कि जीवन एक रेस है और हमें रेस जीतने के लिये घोडे़ जैसी मेहनत करनी होगी। पीयूष चावला ने बच्चों को बैट, बाॅल देने के साथ आटोग्राफ भी दिया। बच्चों के साथ ग्रुप में फोटो भी खिंचवायी और सभी बच्चों से हाथ मिलाया। 

दो सत्रों में आयोजित कार्यक्रम में आईआईटी भिलाई के निदेशक प्रो. रजत मूना ने भी बच्चों से सीधा संवाद किया। प्रो. मूना ने कहा कि अच्छे लोगों की दोस्ती से सफलता का सफर आसान हो जाता है। सभी में कुछ ना कुछ विशेष गुण होते हैं हमें अपने गुण को पहचान कर उसका सदुपयोग करना चाहिये। कार्यक्रम में चीन में तीरंदाजी में रजत पदक जीतकर देश का नाम रौशन करने वाले विद्यालय के छात्र आदित्य सिंह राठौर को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम में सामूहिक गीत, शिव तांडव की मनमोहक प्रस्तुति दी। स्कूल के इंटरैक्ट क्लब द्वारा प्रारंभ किये गये नये प्रयास ‘क्लाॅथ डोनेशन ड्राईव’ का शुभारम्भ भी क्रिकेटर पीयूष चावला ने किया। 

वाराणसी स्कूल समूह के चेयरमैन दीपक कुमार बजाज ने अतिथियों का स्वागत कर कहा कि लगन, निष्ठा एवं ईमानदारी से किया गया कोई भी प्रयास असफल नहीं होता। व्यक्ति जिस भी क्षेत्र में हो उसे अपने लक्ष्य की ओर सदैव बढ़ते रहना चाहिये। व्यक्ति को बड़ी सफलता के लिये सदैव ही नये प्रयोग करने के लिये भी तैयार रहना चाहिये। इस मौके पर स्कूल के निदेशक अनिल के. जाजोदिया ने भी छात्रों का उत्साह वर्धन किया। कार्यक्रम में विद्यालय के निदेशक मनोज कुमार बजाज, श्यामसुन्दर बजाज, संजय अग्रवाल, प्रधानाचार्या सुधा सिंह, शैक्षणिक प्रबंधक नरेन्द्र पाण्डेय भी मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top