मनोरंजन

Blog single photo

28 जून से आर्टिकल 15

30/05/2019

अनुज
मुम्बई, 30 मई (हि स)। अनुभव सिन्हा की मुल्क के बाद नई फिल्म आर्टिकल 15 का ट्रेलर सोशल मीडिया पर लांच कर दिया गया है। इस बार अनुभव सिन्हा ने उत्तर प्रदेश के जातीय भेदों को फिल्म की कहानी का आधार बनाया है।
फिल्म में मुख्य भूमिका एक पुलिस इंस्पेक्टर की है, जो आयुष्मान खुराना ने निभाई है। ये इंस्पेक्टर तीन नाबालिग लड़कियों की दुष्कर्म के बाद हत्या के मामलों की जांच करता है। ये तीनों लड़कियां दलित परिवारों की बताई जाती हैं, जबकि इस कांड में शामिल लोग उच्च जातियों से संबंध रखते हैं।
अनुभव सिन्हा से जब पूछा गया कि क्या ये कहानी कुछ साल पहले जब अखिलेश यादव की यूपी में सरकार थी, तो उस दौरान बदायूं जिले के एक गांव में दो बहनों के साथ हुए इस तरह के मामले से जुड़ी है। इस पर अनुभव सिन्हा का कहना था कि उनकी कहानी में सिर्फ किसी एक हादसे को आधार नहीं बनाया गया है, बल्कि काफी रिसर्च के बाद इसे तैयार किया गया है। 
उन्होंने कहा कि जिस तरह से मुल्क में उन्होंने बिना किसी की परवाह किए बिना अपने दिल से एक फिल्म बनाई और लोगों ने उसे सराहा, उसी तरह से वे उम्मीद करते हैं कि आर्टिकल 15 को भी पसंद किया जाएगा। अनुभव सिन्हा के मुताबिक, उनकी फिल्म इस बात पर जोर देती है कि हमारे संविधान में आर्टिकल 15 में लिखा गया है कि प्रशासन किसी भी स्तर पर अपने नागरिकों के साथ किसी भी तरह का भेदभाव नहीं कर सकता, लेकिन हम सब जानते हैं कि संविधान की इस गारंटी की कैसे धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। ये फिल्म आगामी 28 जून को रिलीज होगी।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top