अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

अमेरिका ने खमेनी के 9 विश्वासपात्रों पर लगाया प्रतिबंध

05/11/2019

कृष्ण कुमार 

वाशिंगटन, 05 नवम्बर  (हि.स.)। अमेरिका ने सोमवार को ईरान के सर्वोच्च नेता आयातुल्ला अली खमेनी के खास नौ लोगों के खिलाफ नया प्रतिबंध लगा दिया जिनमें सेना के प्रमुख,उनके एक बेटे और न्यायपालिका के प्रमुख शामिल हैं। यह जानकारी मीडिया रिपोर्ट से मिली।

यह भी इतिफाक ही है कि अमेरिका ने यह कार्रवाई तेहरान में अमेरिकी दूतावास की घेराबंदी की 40वीं वर्षगांठ के मौके पर की है। वित्त विभाग ने कहा कि ईरानी सशस्त्र बल के जनरल स्टाफ को भी काली सूची में डाला जा रहा है।

अमेरिकी वित्त मंत्री स्टीवेन मनुचिन ने एक बयान जारी कर कहा, ‘’वित्त् विभाग आयातुल्ला की गलत नीतियों को लागू करने और उनके आसपास रहने वाले गैर निर्वाचित अधिकारियों को निशाना बना रहा है। ‘’

सरकारी एजेंसी ईरना के मुताबिक, नए प्रतिबंध लगाए जाने के बाद प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए ईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मोसवी ने कहा कि  यह अमेरिकी हताशा और तार्किक एवं कूटनीतिक दृष्टिकोण से अंतरराष्ट्रीय मुद्दों को संभालने की अयोग्यता का संकेत है।

 विदित हो कि नए प्रतिबंधों के बावजूद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कूटनीति के दरवाजे खुले रखे हैं और ईरान के शीर्ष नेता से मिलने की इच्छा जाहिर की है। हालांकि अमेरिका ने यह साफ कर दिया है कि ईरान सरकार  गलत ढंग से हिरासत में लिए गए सभी अमेरिकी नागरिकों को रिहा कर दे। विदेश मंत्री माइक पोंपिओ ने एक बयान जारी कर कहा, ‘’हम तब तक चैन से नहीं बैठेंगे, जब तक ईरान में बंदी बनाए गए अमेरिकी नागरिक अपने घर वापस नहीं आ जाते हैं।‘’

अमेरिकी विदेश विभाग ने सोमवार को अलग से यह भी घोषणा की कि संघीय जांच ब्यूरो के पूर्व एजेंट रॉबर्ट लेविंसन के बारे में सूचना देने वाले, पता लगाने वाले को दो करोड़ अमेरिकी डॉलर का इनाम दिया जाएगा। वह अंतिम बार ईरान में देखे गए थे।

हिन्दुस्थान समाचार 



 
Top