अपराध

Blog single photo

चित्तौड़गढ़: फर्जी कॉल सेंटर पर छापा, लोन मुहैया करा अमेरिकी लोगों से करते थे करोड़ों की ठगी

05/09/2019

- मोबाइल कॉल व मैसेज से 100 से 1000 डॉलर के गिफ्ट कार्ड से करते थे ठगी
 - मुख्य संचालक फरार
 - 6 मोबाइल, एक लैपटॉप व 6 कंप्यूटर बरामद

अखिल 
चित्तौड़गढ़, 05 सितम्बर (हिस)। शहर में महाराणा प्रताप सेतु मार्ग पर करतार डेंटल के ऊपर तीसरी मंजिल पर चल रहे फर्जी कॉल सेंटर पर ऑनलाइन ठगी करते हुए कोतवाली चित्तौड़गढ़ थाना पुलिस ने बुधवार रात छापा मारकर 5 आरोपितों को गिरफ्तार किया। पकड़े गए सभी युवा अमेरिका की लेंडिंग क्लब नामक संस्था के कर्मचारी बनकर अमेरिकियों को लोन मुहैया कराने के नाम पर उनके बैंक खातों में लोन की कुछ राशि एडवांस जमा करवा उनसे वॉलमार्ट गिफ्ट कार्ड बनवा उसके नंबर व पिन लेकर उनके खाते से रुपये निकाल लेते थे।

पुलिस अधीक्षक अनिल कयाल ने बताया कि पकड़े गए सभी युवा 15 से 20 हजार के मासिक वेतन पर पिछले कुछ दिनों पूर्व ही गुजरात व मध्यप्रदेश से यहां काम के लिए लाए गए थे। सभी की उम्र 20 से 32 साल करीब है। संचालक इन्हें अंग्रेजी भाषा की स्क्रिप्ट व मैसेज तैयार करा कर अमेरिकियों को फंसा कर प्रतिदिन डॉलर में कमाई कर रहा था।

संचालक मोबाईल एप के माध्यम से आईडी बना कर कार्य करने वाले युवकों से मोबाइल के जरिए अमेरिकियों को लोन मुहैया कराने का मैसेज भेजते थे। अमेरिकी लोन के लालच में आकर आरोपितों को फोन करते, तब यह युवक उनकी कॉल को संचालक को फॉरवर्ड कर देते थे। फॉरवर्ड कॉल से संचालक अमेरिकी भाषा में अमेरिकियों को लोन के लिए राशि देने के लिए राजी कर स्वीकृत राशि का कुछ हिस्सा उनके खाते में जमा करवा देता था। उनका खाता चेक करने के लिए उन्हें वॉलमार्ट गिफ्ट कार्ड बनवा उस कार्ड के नंबर व पिन नंबर उनसे ले लिया करता था। इसके बाद उनके बैंक खातों में जमा सारी राशि अपने खातों में ट्रांसफर कर लेता था। संचालक कॉल सेंटर के भवन का किराया प्रतिमाह चुका रहा था।

पुलिस जांच में सामने आया कि शहर में कुछ समय पूर्व शुरू हुए इस कॉल सेंटर में कार्य करने वाले सभी युवकों के निकनेम थे, जो शाम 7.30 बजे से सुबह 5 बजे तक ऑफिस में काम कर रहे थे। सभी का खाना पीना व नाश्ता उनके टेबल पर ही पहुंच रहा था।

छापे की कार्यवाही के दौरान सभी आरोपित मोबाइल पर कार्य करते हुए व्यस्त मिले, जो पुलिस के पहुंचने पर भी नहीं भाग सके। पूछताछ में उन्होंने कुछ दिन पूर्व ही यहां आना बताया। पुलिस ने कार्यवाही के दौरान मौके से 6 मोबाइल, एक लेपटॉप, 6 कंप्यूटर व कई इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जप्त कर कोतवाली थाना पर धोखाधड़ी व आईटी एक्ट का मामला दर्ज किया है। 

 स्क्रिप्ट पढ़ बोलते फराटेदार अंग्रेजी 
आरोपित बीएससी व बीकॉम पढ़े लिखे हो शानदार अंग्रेजी बोलते थे व संचालक द्वारा उपलब्ध स्क्रिप्ट को कंप्यूटर स्क्रीन पर खोल कर अंग्रेजी में बोल बात कर अमेरिकियों से ठगी कर रहे थे। अमेरिकियों की तरह ही रखे नाम ठगी करने के लिए कॉल सेंटर में कार्य कर रहे युवकों ने अमेरिकियों की तरह ही अपने नाम जस्टिन व्हाइट, जैक गेट्स, सेम विल्सन, पीटर आदि नाम रख रखे थे।

इनकी हुई गिरफ्तारी पुलिस ने कार्यवाही के दौरान मौके से हाथीजन सर्कल थाना शमोल अहमदाबाद गुजरात निवासी पुनीत एच प्रसाद, छतरपुर मध्य प्रदेश निवासी श्रीवत्स देवम अर्जरिया , वटवा जिला अहमदाबाद गुजरात निवासी नीतीश तेली, कुंभा नगर मस्जिद के पास चित्तौड़गढ़ निवासी अमानत उर्फ बंटी  एवं सज्जन नगर थाना अंबामाता उदयपुर निवासी शाकिर हुसैन को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों से पूछताछ के बाद उनके संचालक रसूलाबाद कॉलोनी शाहआलम अहमदाबाद सिटी गुजरात निवासी उस्मान पठान को नामजद किया है। गिरफ्तार आरोपितों को गुरुवार को न्यायालय में पेश कर दो दिन का पुलिस रिमांड लिया, जिससे विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

हिन्दुस्थान समाचार



 
Top