चुनावी विशेष

Blog single photo

इलाहाबाद लोकसभा से डाॅ. रीता जोशी विजयी

23/05/2019

प्रयागराज, 23 मई (हि.स.)। प्रयागराज के इलाहाबाद लोकसभा से भाजपा की उम्मीदवार डाॅ. रीता बहुगुणा जोशी ने कुल पड़े 8,80,056 वोटों में 4,94,454 मत पाकर अपने प्रतिद्वंदी सपा के राजेन्द्र पटेल को 1,84,275 मतों से हराकर विजय हासिल की। वहीं राजेन्द्र पटेल को 3,10,179 एवं कांग्रेस के योगेश शुक्ल को 31,953 मत मिले।
प्रयागराज के मुण्डेरा मंडी में सुबह आठ से शुरू हुई मतगणना से ही डाॅ. रीता बहुगुणा जोशी बराबर बढ़त बनाये हुए थी। सायंकाल विजय की सूचना पर कार्यकर्ताओं ने उन्हें फूल-मालाओं से लाद दिया। दिवंगत कांग्रेसी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा की पुत्री और उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा की बहन डाॅ. रीता बहुगुणा जोशी का नाम उत्तर प्रदेश की राजनीति में किसी परिचय का मोहताज नहीं है। डाॅ. रीता जोशी इतिहास में स्नातकोत्तर और पीएचडी के बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय में मध्यकालीन तथा आधुनिक इतिहास की प्रोफेसर रहीं। डाॅ. रीता जोशी 1995 से 2000 तक इलाहाबाद की महापौर रही। 2012 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर लखनऊ कैंट विधानसभा से विधायक बनीं। वह 2007 से 2012 तक कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष भी रहीं। इसके अतिरिक्त 2003 से अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष रहीं। यूपी चुनाव 2017 के ठीक पहले 29 दिसम्बर 2016 को उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।
वर्ष 2011 में डाॅ. रीता जोशी भट्टा पारसौल की घटना के बाद राहुल गांधी के साथ गिरफ्तार हुई थी। इसके अलावा 2009 में बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ अभद्र टिप्पणी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। रीता बहुगुणा जोशी,भारत के उत्तर प्रदेश की उत्तर प्रदेश की सोलहवीं विधान सभा में विधायक रहीं। 2012 उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश की लखनऊ कैण्टोमेंट विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र, उत्तर प्रदेश (निर्वाचन संख्या-175) से चुनाव जीता। रीता बहुगुणा जोशी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. एच.एन बहुगुणा की बेटी है। वह महिला राष्ट्रीय परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष हैं, 2003 से अखिल भारतीय महिला कांग्रेस के अध्यक्ष और 2007 के उत्तर प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष रहे हैं। 2012 के विधानसभा चुनावों में उन्हें लखनऊ छावनी के लिए विधान सभा का सदस्य चुना गया था।

हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त/सुनीत 


 
Top