अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

पाक प्रधानमंत्री ने जनता से टैक्स देने और संपत्ति घोषित करने का किया आग्रह

10/06/2019

सुप्रभा
इस्लामाबाद, 10 जून (हि.स.)। आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सोमवार को अपने देश के नागरिकों से आग्रह किया है कि वह 30 जून तक अपनी संपत्ति की घोषणा कर दे और टैक्स का भुगतान भी कर दे। 
नेशनल बजट पेश होने से एक दिन पहले पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले दस सालों

में पाकिस्तान का कर्ज छह हजार करोड़ रुपये से बढ़कर 30 हजार करोड़ रुपये हो गया है। हमें इस संकट से बाहर आने के लिए जल्द से जल्द कदम उठाने होंगे।

इमरान ने अपनी अपील में कहा " मैं आप सबसे आग्रह करता हूं कि हमारी "‘एसेट डेक्लरेशन स्कीम’ में भाग ले। अगर हम समय पर करों का भुगतान नहीं करेंगे तो अपने देश को आगे ले जाने में कामयाब नहीं होंगे।"

पिछले महीने पाकिस्तान की सत्तारुढ़" तहरीके इंसाफ पार्टी "(पीटीआई) ने नई‘टैक्स एमेनेस्टी स्कीम’की घोषणा की थी जिसके तहत 30 जून तक टैक्स का भुगतान किया जा सकता हैं। 
उल्लेखनीय है कि पिछली सरकार ने चार ऐसी स्कीमों की घोषणा की थी जिसमे 80000 लोगों से 121 करोड़ रुपये कर के रूप में वसूले गए थे। जबकि इमरान खान नीत सरकार की टैक्स एमेनेस्टी स्कीम इससे अलग है। 
उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान में 200 मिलियन लोगों में से केवल 1.4 मिलियन लोग टैक्स देते हैं।देशवासियों से टैक्स देने का आग्रह करते हुए इमरान ने कहा कि हमारे देश में यह क्षमता है कि हम हर साल 10000 करोड़ रुपये एकत्र कर सकते हैं।

सत्तारूढ़ पार्टी पीटीआई की सरकार वर्ष 2019-20 का बजट 11 जून को नेशनल एसेंबली में पेश करेगी। यह बजट प्रधानमंत्री के वित्त, राजस्व और आर्थिक मामलों के सलाहकार डॉ हाफिज शेख प्रस्तुत करेंगे। 
हिन्दुस्थान समाचार


News24 office

News24 office

Top