अपराध

Blog single photo

दिल्ली : पुलिस ने पांच बदमाशों को किया गिरफ्तार

05/09/2019

अश्वनी शर्मा
नई दिल्ली, 05 सितम्बर (हि.स.)। तिहाड़ जेल में गैंग बनाकर मुंडका इलाके में गोदाम से लाखों का सामान चोरी करने वाले गैंग का पर्दाफाश करते हुए मुंडका थाना पुलिस ने पांच बदमाशों को बुधवार शाम गिरफ्तार किया। गैंग दिल्ली-एनसीआर में वारदात का सैकड़ा लगा चुका है। बाहरी जिले के एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र सागर के अनुसार आरोपितों की पहचान विपिन, राजू, छोटू, अजय और मोहम्मद मनन के रूप में हुई है। आरोपितों के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल ईको कार, 127 मोबाइल फोन, आधा दर्जन लेपटॉप, नौ टैब, मॉनिटर, लैपटॉप बैग आदि सामान जब्त किया गया। पुलिस उनसे पूछताछ कर यह जानने की कोशिश में लगी है कि वे चोरी का सामान कहां और किसको बेचा करते थए।
एडिशनल डीसीपी के अनुसार बीते बुधवार और गुरुवार की रात को मुंडका इलाके में गोदाम में घुसकर पांच बदमाशों ने लाखों रुपये के लैपटॉप, मोबाइल फोन, टैब आदि कीमती सामान चुरा लिया था। सामान को ईको कार में ले जाया गया था। एसएचओ सुरेन्द्र संधू की देखरेख में पुलिस टीम ने जांच शुरू की। 

सीसीटीवी से पता चला आरोपितों के बारे में
जांच के दौरान पुलिस टीम ने गोदाम के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला तो ईको कार वारदात के वक्त आती और जाती दिखाई दी। पुलिस ने कार के बारे में पता लगाया। जबकि एक सूचना पर विपिन को मंगलवार देर रात गिरफ्तार किया। जिसको रिमांड पर लेकर उसकी निशानदेही पर उसके बाकी साथियों को बुधवार शाम गिरफ्तार कर चोरी का सामान जब्त कर लिया। आरोपितों से पूछताछ करने पर पता चला कि राजू इलाके में लेबर का काम करता है। वह ड्रग्स का सेवन कर चोरी आदि की वारदात को अंजाम दिया करता था। वह एक वारदात में पकड़ा गया था। सजा काटते हुए वह उत्तर प्रदेश और बिहार के लड़कों के संपर्क में आया था। जेल में जान पहचान होने के बाद बाहर आकर इन्होंने अपना एक गैंग बनाया। दिल्ली और एनसीआर में रेकी कर फैक्टरी, गोदाम, घरों आदि में वारदातों को अंजाम दिया। गैंग सर्दियों में ज्यादा एक्टिव होता है। वारदात के बाद गैंग अपने गांव भाग जाता है। मामला कुछ शांत होने के बाद वह वापस आकर रात को वारदातों को अंजाम दिया करता था। अमन और राजू का अभी छह और पांच वारदातों में शामिल होने की बात सामने आई है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top