अपराध

Blog single photo

विधायक ढुलु महतो के खौफ और जुल्म की दास्तांन एक-एक कर लोगों के सामने आने लगी

14/03/2020

बिमल
धनबाद , 14 मार्च (हि.स.)। धनबाद पुलिस ने बाघमारा थाना अंतर्गत बीसीसीएल के अलग-अलग क्षेत्रो में हाइवा करीब 100 करोड़ से अधिक कीमत के भारी वाहन और मशीनें लावारिस मिलीं हैं। इस संबंध में मुजफ्फरपुर निवासी इरशाद आलम ने बरोरा थाना में विधायक ढुलु महतो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी। बीसीसीएल में संचालित आउटसोर्सिंग से कीमती वाहन एवं मशीनों को विधायक ढुलू महतो ने जबरन छीन लिया। मांगने पर जान से मारने की धमकी दी।
इरशाद आलम की प्राथमिकी  पर बाघमारा डीएसपी नितिन खंडेलवाल के नेतृत्व में पुलिस ने खोजबीन शुरू की तो बाघमारा इलाके में तीन जगहों पर 100 करोड़ से अधिक कीमत के भारी वाहन और मशीनें लावारिस मिलीं। बीसीसीएल के एरिया दो के जमुनिया पैच में कभी आइसीसीआइपीएल कंपनी आउटसोर्स किए गए काम को करती थी। इस कंपनी को बीसीसीएल ने कैंप कार्यालय बनाने के लिए जगह दी थी। वह कंपनी चली गई। कैंप कार्यालय की जगह पर अभी 22 हाइवा और डंपर, दो पोकलेन और एक डीजल टैंकर खड़े हैं। लगभग पांच करोड़ तक के वाहन और मशीनें वहां पड़ी हुई हैं। 

प्राथमिकी के मुताबिक  बाघमारा थाना अंतर्गत बीसीसीएल के बेनीडीह पैच में शैली इंफ्रा लिमिटेड बीसीसीएल की वेंडर पार्टनर कंपनी के रूप में काम कर चुकी है। कैंप कार्यालय बनाने के लिए उसे जो जगह दी गई, वहां पांच पोकलेन, 12 स्कैनिया डंपर और एक 407 वाहन खड़े हैं। बरोरा थाना अंतर्गत जमुआटांड़ में पेट्रोल पंप के पीछे विशाल भूखंड की चहारदीवारी के भीतर आठ हाइवा, 8 वोल्वो, पांच पोकलेन, दो टैंकर और एक ग्रेडर मशीन पड़ी है। 

पुलिस को पता चला है कि बाघमारा क्षेत्र में और भी कई ऐसी जगहें हैं जहां वाहनों को लाकर रखा गया है। पुलिस ऐसे और लावारिस वाहनों की खोज में है। इरशाद की प्राथमिकी बयान के बाद हुई खोजबीन में पुलिस को जमुआटांड़ में ड्रिल मशीन मिल गई। एक हाइवा भी मिला है। इरशाद आलम चाहते हैं कि ढुल्लू महतो द्वारा छीने गए उनके बाकी वाहनों की भी खोज कर पुलिस उनके हवाले कर दे।
भाजपा की सरकार में विधायक ढुलु महतो की पूरे बाघमारा  इलाके में सामराज्य चलता था। सत्ता में होने की वजह से पुलिस भी मूकदर्शक बनी रहती थी । 
सरकार बदलते ही विधायक के जुल्म और खौफ की दास्तान एक-एक कर  सामने आ रही हैं। वहीं ढुल्लू महतो अपनी  गिरफ्तारी के डर से विगत 19 फरवरी से फरार हैं।  पुलिस लगातार उनके काले कारनामों को उजागर कर रही है। इसी का परिणाम लावारिस वाहनों का भी सामने आना है। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top