अपराध

Blog single photo

चंडीगढ़ में एक ही परिवार के 3 लोगों की गला रेतकर हत्या

23/01/2020

- गृहस्वामी ने ट्रेन के आगे कूदकर की आत्महत्या करने की कोशिश

संजीव शर्मा
चंडीगढ़, 23 जनवरी (हि.स.)। चंडीगढ़-पंचकूला सीमा पर स्थित मनीमाजरा में एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या कर दी गई। जबकि गृहस्वामी ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है। पुलिस ने उसे पीजीआई में भर्ती कराया है। उसकी हातल गंभीर बनी हुई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार मृतकों की पहचान सरिता (45) पत्नी संजय चोपड़ा, उसकी बेटी सांची (21) और बेटे अर्जुन (16) के रूप में हुई है। संजय चोपड़ा मनीमाजरा क्षेत्र के मॉडर्न हाउसिंग काम्प्लेक्स के मकान नंबर 5012 में किराए पर करीब एक साल से रह रहा है। परिवार में पत्नी और दो बच्चे थे। संजय पंचकूला के सेक्टर 9 में कृष्णा डेयरी के नाम से दुकान चलाता है। बुधवार की रात करीब 12 बजे संजय ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। उसे गंभीर हालत में पीजीआई में भर्ती कराया गया है।

पीजीआई के चिकित्सकों की सूचना पर संजय के साथ काम करने वाला एक व्यक्ति अस्पताल पहुंचा। उसने आत्महत्या वाली घटना के बारे में बताने के लिए संजय के घर फोन किया, लेकिन किसी ने नहीं उठाया। तब वह व्यक्ति उसके घर गया। वहां बाहर से दरवाजा बंद था। पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़ा गया तो भीतर का दृश्य देखते ही सभी हतप्रभ रह गए।

संजय की पत्नी सरिता, बेटी सांची और बेटे अर्जुन की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। तीनों के सिर और गर्दन पर तेजधार हथियारों से वार किए गए हैं। घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई। मनीमाजरा थाना पुलिस, क्राइम ब्रांच, फॉरेंसिक टीम और एसपी क्राइम वनीत कुमार तमाम अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने आसपास के क्षेत्र में लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगालनी शुरू कर दी है। लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। प्रारंभिक जांच में पुलिस इसे लूट के इरादे से हुई वारदात मान रही है, लेकिन सवाल उठता है कि संजय अरोड़ा ने आत्महत्या करने की कोशिश क्यों की? इसका जवाब भी संजय के बयान आने के  बाद ही पता चलेगा।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top