अपराध

Blog single photo

कानपुर: प्रसाद चढ़ाने के बहाने आए बदमाशों ने चुराई भगवान कृष्ण की अष्टधातु की मूर्ति

15/06/2019

मोहित
मंदिर में सफाई कर रहे पुजारी ने मूर्ति चुराकर भाग रहे बदमाशों को दौड़ाया, पकड़ने में रहे नाकाम 
कानपुर, 15 जून (हि.स.)। जनपद के नर्वल थाना क्षेत्र में स्थित ठाकुर मुरली मनोहर राधाकृष्ण मंदिर में शनिवार को दर्शन करने दो युवक पहुंचे। इस दौरान दोनों ने पुजारी के सामने ही भगवान कृष्ण की आष्टधातु की मूर्ति चुराई और मोटरसाइकिल से भाग निकले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मूर्ति चुराने वालों की तलाश शुरू कर दी है। 
नर्वल कस्बा निवासी व्यवसायी समीर शुक्ला के पैतृक आवास पर ही प्राचीन ठाकुर मुरली मनोहर राधाकृष्ण मंदिर है। इन दिनों वह परिवार के साथ शहर में रहते हैं और मंदिर की देख-रेख व पूजा पुजारी राघव बाजपेई करते है। शनिवार को रोजना की तरह पुजारी राघव सुबह मंदिर साफ-सफाई कर रहे थे। इस बीच दो युवक मोटरसाइकिल से मंदिर पहुंचे। अंदर पहुंचकर युवकों ने पुजारी से प्रसाद चढ़ाने की बात कहते हुए उन्हें लड्डू दिये। पुजारी ने युवकों से पूजा आरती के बाद प्रसाद चढ़ाने की बात कहते हुए सफाई में लगे रहे। 
इस बीच दोनों युवकों ने अचानक मंदिर में रखी भगवान कृष्ण की अष्टधातु की मूर्ति उठाई और भाग निकले। पुजारी यह देखते ही दोनों के पीछे पकड़ने के लिए दौड़े, लेकिन वह मोटर साइकिल से तेजी से मूर्ति लेकर भागने में सफल रहे। 
अष्टधातु की मूर्ति चोरी होने की जानकारी पुजारी ने मालिक व पुलिस को दी। सूचना मिलते ही क्षेत्राधिकारी सदर भगवान सिंह नर्वल थाना प्रभारी रामऔतार व पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। सीओ ने इलाके में वायरलेस के जरिये पुलिस को अलर्ट करते हुए नाकाबंदी कराई और मोटरसाइकिल सवारों की तलाश शुरु की। 
क्षेत्राधिकारी ने बताया कि मंदिर के मालिक व व्यवस्थापक समीर शुक्ला ने यह भी बताया कि इस घटना से दस वर्ष पूर्व अष्टधातु की राधा रानी की मूर्ति भी मंदिर से चोरी हो गई थी। उसकी तलाश में पुलिस ने कई लोगों को पकड़ा, लेकिन मूर्ति बरामद नहीं हो सकी और न ही आज तक उसका कोई सुराग लग सका। पुलिस के मुताबिक पूछताछ में पता चला है कि यह मंदिर व मूर्ति लगभग चार-पांच सौ वर्ष प्राचीन है। इसलिए मूर्ति आष्टधातु और प्राचीन होने के चलते करोड़ों की कीमत हो सकती है। मूर्ति चोरी करने वालों बदमाशों को पुजारी द्वारा बताये गये हुलिये के आधार पर पुलिस तलाश करने में जुट गई है। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top