युगवार्ता

Blog single photo

मंदी की मार व स्टार्टअप के झमेल

22/08/2019

मंदी की मार व स्टार्टअप के झमेल

 कृष्णमोहन सिंह

आर्थिकी एक तरफ मंदी की चपेट में आ गई है, दूसरी तरफ इस विपरीत परिस्थिति में भी जो युवा उद्यमी अकेले या अपने दोस्तों के साथ मिलकर कोई नया रोजगार (स्टार्टअप) शुरू कर रहे हैं, उनको दस तरह के झमेले झेलने पड़ रहे हैं। व्यवसाय शुरू करने की प्रक्रिया में आॅनलाइन अप्लाई करने के बाद भी जब तक कार्यालय में जाकर बाबू व उनके साहब से नहीं मिलिये फाइल आगे नहीं बढ़ रही है।
किसी न किसी बहाने अड़ंगा लगाया जा रहा है। सरकार द्वारा विभिन्न तरह के स्टार्टअप को कई तरह की सुविधा देने की घोषणा के बाद भी हालत यह है कि आयकर विभाग स्टार्टअप वालों से भी वैसे ही व्यवहार कर रहा है जिस तरह से अन्य व्यवसायियों, कारोबारियों से करता है। इससे परेशान होकर बहुत से युवा इंजीनियर, डॉक्टर व अन्य प्रोफेशनल उन देशों में जा रहे हैं जहां स्टार्टअप की बेहतर सुविधा है। दिनों दिन उनकी संख्या बढ़ती जा रही है।


 
Top