राष्ट्रीय

Blog single photo

रामलला के पुजारी ने रिसीवर को पत्र भेजकर खर्च के बजट में बढ़ोतरी की मांग उठाई

12/08/2019

अमित शंकर
अयोध्या ,12 अगस्त(हि.स.)। राम जन्म भूमि के पुजारी सत्येंद्र दास ने मंडलायुक्त मनोज मिश्र को पत्र लिखकर मांग की है कि रामलला की राग भोग के लिए मिलने वाले मासिक खर्च को बढ़ाया जाए। उन्होंने इसके लिए मिलने वाले बजट को नाकाफी बताते हुए अधिगृहित परिषद के रिसीवर को पत्र लिखा।
 आचार्य सत्येंद्र दास का कहना है कि रिसीवर के आदेश पर जितना धन ठाकुर जी की पूजा तथा व्यवस्था के लिए मिलता है ,वह पर्याप्त नहीं है। इसलिए रामलला के खर्च के लिए मिलने वाली रकम में बढ़ोतरी की जाए। पुजारी का यह भी कहना है कि इस वर्ष में की गई वृद्धि नाकाफी है पुजारी को 12000 रुपये  मिल रहे हैं। वहीं रामलला के खर्च में मात्र 800 रुपए बढ़ोतरी की गई है। महंगाई के दौर में इस अल्प वेतन में उनका व अन्य सेवादारों का काम नहीं चल पा रहा। पुजारी ने बताया कि मंदिर की व्यवस्था में उन्हें मिलाकर 9 सहयोगी हैं। जिसमें 4 सहायक पुजारी व 4 कर्मचारी हैं। सभी के वेतन भी अलग-अलग हैं। उनका कहना है कि रामनवमी पर हर साल रामलला के लिए सर्दी व गर्मी के मौसम के हिसाब से 7-7 जोड़ी ड्रेस तैयार करवाई जाती है। इन्हीं को सालभर बदल-बदल का पहनाया जाता है।
 पुजारी ने यह भी बताया कि जितना धन रामनवमी के नाम पर मिलता है उसी में ही राम जन्मोत्सव पर भी व्यवस्था करनी पड़ती है। ऐसे में राग-भोग के लिए दिया जा रहा मासिक खर्च बढ़ाया जाए। वहीं मंडलायुक्त का कहना है रामलला के लिए 93200 रुपये दिए जाते थे जिसे इस वर्ष  99000 रुपये  कर दिया गया  है। रामलला के खर्चे में वृद्धि पर विचार किया जा रहा है। व्यवस्था के लिए कमेटी बनी है। जिसमें वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा रामलला के पुजारी भी सदस्य हैं।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top