व्यापार

Blog single photo

रिजर्व बैंक की नीतिगत समीक्षा बैठक शुरू, रेपो रेट में कटौती की है संभावना

01/10/2019

प्रजेश शंकर
मुंबई/नई दिल्‍ली, 01 अक्‍टूबर (हि.स.)। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की द्विमासिक मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक मंगलवार को शुरू हो गई। गवर्नर शक्तिकांत दास के नेतृत्‍व में हो रही इस बैठक में आरबीआई नीतिगत दरों पर फैसला करेगा।
अर्थव्‍यवस्‍था में जारी सुस्‍ती के बीच इस बात की उम्मीद की जा रही है कि शक्तिकांत दास की अगुवाई वाली मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) ब्याज दरों (रेपो रेट) में एक बार फिर 0.25 फीसदी की कटौती कर सकती है ताकि अर्थव्‍यवस्‍था को मजबूत किया जा सके। आरबीआई गवर्नर इस बात के संकेत पहले ही दे चुके हैं। 
चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में आर्थिक वृद्धि की रफ्तार घटकर छह साल के निचले स्तर पर पहुंच गई है। इसके बाद सरकार ने अर्थव्‍यवस्‍था को बूस्‍ट करने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं। सरकार ने कॉरपोरेट टैक्स में भारी कटौती और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों पर सरचार्ज में कमी जैसे कई अहम फैसले लिए हैं।
उल्लेखनीय है कि आरबीआई की छह सदस्यीय एमपीसी वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी द्विमासिक मौद्रिक नीति की घोषणा तीन दिन की बैठक के बाद चार अक्टूबर को घोषित करेगी। दरअसल दो अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर समिति की बैठक नहीं होगी। आरबीआई साल में अब तक चार बार नीतिगत दरों में कटौती कर चुका है। रिजर्व बैंक ने इस साल बेंचमार्क रेट में 1.10 फीसदी तक की कटौती कर चुका है। एमपीसी ने अगस्त महीने में रेपो रेट में 0.35 फीसदी की कटौती की थी, जिसके बाद रेपो रेट घटकर 5.40 फीसदी रह गया था।

हिन्‍दुस्‍थान समाचार


 
Top