अपराध

Blog single photo

बिजनौर : एक लाख के इनामी ने खुद को गोली मारकर की खुदकुशी .....

05/10/2019

- बस में चेकिंग के दौरान पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर खुद को दी वारदात को अंजाम 
दीपक वरुण 

बिजनौर, 05 अक्टूबर (हि.स.)। भाजपा नेता के बेटे, भतीजे समेत तीन लोगों की निर्मम हत्या करने वाला एक लाख रुपये के इनामी बदमाश ने पुलिस को देखकर बस में खुद को गोली मारकर हत्या कर ली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

पुलिस अधीक्षक संजीव त्यागी ने बताया कि एक लाख रुपये के इनामी बदमाश अश्वनी उर्फ जॉनी की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही थी। निरंतर वाहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। शुक्रवार देर रात दिल्ली से बड़ापुर जाने वाली एक रोडवेज बस को बढ़ापुर थाना के सामने चेकिंग के लिए रोका गया। दो सिपाही बादल पवार और मोनू यादव बस में चढ़कर तलाशी ले रह थे। इसी दौरान बस में एक युवक दिखा जो मुंह पर रुमाल बांधे हुए था। सिपाही उस युवक के पास पहुंचे और जैसे ही चहेरे से रुमाल हटाने का प्रयास किया तो उसने सिपाहियों को झटक दिया और कमर से तमंचा निकालकर खुद को गोली मार ली। पुलिस उसे फौरन सीएचसी लेकर पहुंची, जहां डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। 


एसपी ने बताया कि मृतक की पहचान एक लाख रुपये के इनामी बदमाश अश्वनी उर्फ जॉनी के रूप में हुई है। जॉनी ने बीते सितम्बर माह में बढ़ापुर के मोहल्ला नौमी निवासी भाजपा नेता के बेटे राहुल और भतीजे कृष्णा की हत्या की थी। दोनों की हत्या के पांच दिन बाद ही उसने स्योहारा के गांव दौलताबाद निवासी पूर्व एयरहोस्टेस गीतिका शर्मा की भी घर में घुसकर हत्या कर दी थी। 
एक तरफा प्यार में जॉनी ने गीतिका को सात गोलियां मारी थीं। तीन हत्या करने वाला जॉनी सुर्खियों में आ गया और पुलिस के अधिकारियों ने उस पर एक लाख रुपये का इनाम की घोषणा करते हुए दबिश पर टीमों को लगाया गया गया था। 21 थानों की पुलिस टीम उसकी तलाश में थी। 

एसपी ने शनिवार को बताया कि जॉनी के आत्महत्या करने से पुलिस ने राहत की सांस ली है। वहीं, सिपाही बादल पवार और मोनू यादव की प्रशंसा करते हुए दोनों को एक लाख रुपये का इनाम दिलाए जाने की संस्तुति की जाएगी। 

हिन्दुस्थान समाचार




 
Top