राष्ट्रीय

Blog single photo

असम के 11 जिले बाढ़ से प्रभावित, छह नदियां उफान पर, तीन की मौत

10/07/2019

अरविंद राय
गुवाहाटी, 10 जुलाई (हि.स.)।असम समेत पड़ोसी राज्यों में लगातार हो रही बारिश के चलते तीन लोगों की मौत हो गई है। राज्य के 11 जिले धेमाजी, लखीमपुर, बिश्वनाथ, दरंग, बरपेटा, नलबाड़ी, चिरांग, गोलाघाट, माजलुली, जोरहाट और डिब्रूगढ़ प्रभावित हुए हैं। मुख्य रूप से छह नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर है।इसमें ब्रह्मपुत्र नद जोरहाट एवं शोणितपुर जिले में, दिखौ शिवसागर जिले में, धनसिरी गोलाघाट में, जिया भराली शोणितपुर में, पुठीमारी कामरूप जिले में, बेकी नदी बरपेटा में कई स्थानों पर खतरे के निशान को पार कर गई हैं।
राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग के आंकड़ों के अनुसार 24 राजस्व सर्किल में धेमाजी जिले के जोनाई, सिसिबोरगांव व गोगामुख, लखीमपुर जिले का नाउबेचा, नार्थ लखीमपुर, बिहपुरिया, कदम और नयनपुर, बिश्वनाथ का हेलेम व गोहपुर, दरंग जिले में दलगांव, नलबाड़ी में टिहू और घोगरापार, बरपेटा का कलगछिया, बरपेटा और सरूपेटा, जिला का बिजनी, गोलाघाट का गोलाघाट, बोकाखात और देरगांव, माजुली का माजुली, जोरहाट जिले के जोरहाट वेस्ट और तिताबर तथा डिब्रूगढ़ जिले का चबुआ राजस्व सर्किल बाढ़ से प्रभावित हुआ है।
बाढ़ से कुल 530 गांव प्रभावित हुए हैं। जिसमें धेमाजी जिले में 244, लखीमपुर जिले में 115, बिश्वनाथ जिले में 35, दरंग जिले में 18, नलबाड़ी जिले में 04, बरपेटा जिले में 15, चिरांग जिले में 01, गोलाघाट जिले में 37, माजुली जिले में 28, जोरहाट जिले में 24 तथा डिब्रूगढ़ जिले में 09 गांव बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।
बाढ़ के पानी में कुल 13,267,74 हेक्टर में खड़ी फसल डूब गई है। आंकड़ों पर नजर डालें तो धेमाजी जिले में 5,699, लखीमपुर जिले में 4019.84, बिश्वनाथ जिले में 459, नलबाड़ी में 07, बरपेटा जिले में 95, चिरांग में 62.90, गोलाघाट में 340, माजुली में 967, जोरहाट जिले में 1387 तथा डिब्रूगढ़ जिले में 231 हेक्टर भूमि पानी में डूब गई है।

बाढ़ से 2,07,098 व्यक्ति अपने घरों को छोड़कर राहत शिविरों व ऊंचाई वाले स्थानों पर शरण लेने को मजबूर हुए हैं। प्रशासन ने कुल 13 राहत शिविर स्थापित किए हैं। जबकि राहत सामग्रियों का वितरण करने के लिए कुल 249 केन्द्र स्थापित किए गए हैं।
बाढ़ के चलते तीन लोगों की मौज हुई है। गोलाघाट जिले में एक, धेमाजी जिले में एक तथा कामरूप (मेट्रो) जिले में एक व्यक्ति की बाढ़ के चलते मौत हुई है। बाढ़ के कारण 39,553 बड़े, 14,433 छोटे पालतु पशु तथा 17,482 पोलेट्री भी भी प्रभावित हुए हैं। बाढ़ में फंसे लोगों को राहत पहुंचाने के लिए एडीआरएफ व एसडीआरएफ की टीम पूरी मुश्तैदी के साथ लगी हुई है।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top