राष्ट्रीय

Blog single photo

इमरान खान-शी जिनपिंग वार्ता में कश्मीर के उल्लेख पर भारत को आपत्ति

09/10/2019

सुफल/अनूप

नई दिल्ली, 09 अक्टूबर (हि.स.)। भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच बीजिंग में हुई वार्ता के दौरान कश्मीर का उल्लेख किए जाने पर एतराज व्यक्त किया है। भारत ने कहा है कि किसी अन्य देश को भारत के आंतरिक मामलों में नहीं बोलना चाहिए।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने गुरुवार को कहा कि हमें इस आशय की रिपोर्ट देखने को मिली है कि इमरान खान और राष्ट्रपति शी की बातचीत के दौरान कश्मीर का मुद्दा भी आया। उन्होंने कहा कि भारत का यह सतत और स्पष्ट मत रहा है कि जम्मू कश्मीर भारत का अटूट हिस्सा है। चीन को भारत के इस रुख की पूरी तरह जानकारी है। प्रवक्ता ने कहा कि अन्य देशों को भारत के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति शी के बीच महाबलिपुरम में आयोजित होने वाली दूसरी अनौपचारिक शिखरवार्ता के पहले इमरान खान चीन की यात्रा पर गए हैं। उन्होंने चीन के राष्ट्रपति से कश्मीर सहित विभिन्न मामलों पर वार्ता की। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चीन ने पाकिस्तान को आश्वसन दिया कि वह कश्मीर के घटनाक्रम पर नजर रखे हुए है तथा वह पाकिस्तान के मूलभूत हितों की रक्षा करेगा।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top