व्यापार

Blog single photo

कैट ने दिल्‍ली में बाजार खोलने का किया स्‍वागत, ऑड-इवन फॉर्मूले पर जताया विरोध

18/05/2020

प्रजेश शंकर 

नई दिल्‍ली, 18 मई (हि..)  कन्‍फेडरेशन ऑफ ऑल इडिया ट्रेडर्स (कैट) ने दिल्ली सरकार के लॉकडाउन 4.0 में बाजार खोले जाने को लेकर जारी दिशा-निर्देशों का स्वागत किया है। कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने इस घोषणा का स्वागत करते हुए सोमवार को कहा कि 'हम बाजारों को खोलने की अनुमति देने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बयान का स्वागत करते हैं। उन्‍होंने कहा कि यह कदम बहु-प्रतीक्षित है, जो निश्चित रूप से दिल्ली की अर्थव्यवस्था के चक्र को पुन: शुरू करेगा। 

खंडेलवाल ने कहा कि दिल्ली के व्यापारी अपने व्यापार का संचालन फिर से शुरू कर पाएंगे। इसके लिए दिल्ली का व्‍यापारी समुदाय दिल्ली सरकार के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है और दिल्ली में आर्थिक कार्यों को फिर से शुरू करने के लिए तत्पर है। लेकिन, खंडेलवाल ने बाजार खोलने के ऑड-इवन फॉर्मूले का विरोध करते हुए कहा कि ऑड-इवन वाहनों में तो चल सकते हैं किन्तु बाजारों के लिए इसका आधार रखा जाना बिल्कुल उचित नहीं है। 

उन्‍होंने कहा कि इससे दिल्ली की व्यापारिक गतिविधि पूर्ण रूप से शुरू नहीं हो पाएंगी। कैट महामंत्री ने कहा कि दिल्ली में व्यापारी माल की खरीद के लिए एक-दूसरे पर निर्भर हैं। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं के दृष्टिकोण से भी यह बहुत असुविधाजनक है। क्योंकि यह उपभोक्ताओं को उनकी पसंद से भी वंचित करेगा। चूंकि प्रत्येक दिन एक स्तिथि की दुकानें बंद रहेंगी।

खंडेलवाल ने सुझाव दिया कि ऑड-इवन के बजाय दिल्ली के बाजारों को ब्लॉक में विभाजित किया जा सकता है। बाजारों के ऐसे ब्लॉक को सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक खोलने की अनुमति दी जा सकती है और दूसरे ब्लॉक को दोपहर 1 बजे से शाम 6 बजे तक खोलने की अनुमति दी जा सकती है। इसके अलावा एक दिन छोड़ कर एक दिन दुकानों को खोलने की अनुमति दी जा सकती है। यह तरीका व्यापारियों को व्यवस्थित तरीके से दुकानें खोलने में मदद करेगा तथा उपभोक्ताओं को पूरी पसंद के उत्पाद भी मिलेंगे।  

उन्‍होंने कहा कि दिल्ली का थोक बाजार देश में व्यापार का सबसे बड़ा वितरण केंद्र है और इस दृष्टि से थोक व्यापार के लिए ऑड-इवन तरीके से काम करना बहुत मुश्किल होगा। इसलिए एक वैकल्पिक विधि को अपनाने की आवश्यकता है। साथ ही उन्‍होंने कहा कि ऑड-ईवन योजना व्यापार और ट्रांसपोर्ट के बीच तालमेल का अभाव बनाएगी, जबकि व्यापार को सुचारू तरीके से संचालन के लिए ट्रांसपोर्ट बेहद आवश्यक है। कैट महामंत्री ने कहा कि आर्थिक गतिविधियों को फिर से खोलने के लिए उद्योग, व्यापार और ट्रांसपोर्ट क्षेत्र के बीच तालमेल होना बेहद जरूरी है। 

इसके साथ ही खंडेलवाल ने कहा कि दिल्ली में कारोबार करने वाले व्यापारी बड़ी संख्या में आस-पास के शहरों जैसे कि नोएडा, गाजियाबाद और गुड़गांव, फरीदाबाद, बहादुरगढ़ और सोनीपत में रहते हैं। सीमा पार व्यापारियों के सुचारू आवागमन के लिए दोनों राज्य सरकारों के साथ बातचीत कर एक सिस्टम बनाना भी आवश्यक है। इस संबंध में कैट ने दिल्ली के उप राज्‍यपाल अनिल बैजल,  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल,  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को एक पत्र भेजकर इस संबंध में आपसी सहमति के आधार पर ऐसे व्यापारियों को अनुमति देने की मांग भी की है।  

खंडेलवाल ने यह भी कहा कि बाजार में स्‍व्‍च्‍छता बनाए रखना एक अन्य आवश्यक मुद्दा है, जिस पर सरकार को तत्काल ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने मुख्यमंत्री केजरीवाल से अपील की है कि वे दिल्ली के तीनों नगर निगमों और फायर ब्रिगेड को दुकानें खोलने से पहले सभी बाजारों को साफ करने का निर्देश दें, ताकि उसके बाद ही दुकानें खोली जाएं। दुकानों को साफ़ करना व्यापारियों की जिम्मेदारी होगी। खंडेलवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को दिल्ली के व्यापारियों से सभी समर्थन और सहयोग का आश्वासन दिया और मुख्यमंत्री से दिल्ली में व्यापारिक गतिविधियों को प्रभावी तरीके से चलाने के लिए एक व्यापारियों के सहयोग से एक नीति बनाने की मांग की है। 

हिन्‍दुस्‍थान समाचार


 
Top