चुनावी विशेष

Blog single photo

बागपत में रालोद का किला ध्वस्त, डॉ सत्यपाल फिर विजेता.

24/05/2019

सचिन
बागपत, 24 मई (हि.स.)। बागपत लोकसभा सीट पर चौधरी परिवार की विरासत को डॉ सत्यपाल सिंह के विकास ने खत्म कर दिया है। न तो गठबंधन के जातिगत समीकरण काम आए और न ही चौधरी परिवार की विरासत काम आई।
गुरुवार को दिनभर की उठापटक के बाद शाम होते-होते सत्यपाल सिंह ने 23502 मतों से जीत दर्ज कर अपनी खुशी का इजहार किया, समर्थकों ने मिठाई बांटी और खुशियां मनाई।

कड़ी सुरक्षा के बीच गुरुवार सुबह बागपत के लख्मीचंद पटवारी कॉलेज खेकड़ा में गुरुवार को मतगणना की प्रक्रिया शुरू हुई थी। ईवीएम की गिनती चलती रही और गठबंधन और भाजपा के उम्मीदवार ही नहीं समर्थकों की भी सांसे ऊपर नीचे होती रही। कभी हजार-15सौ वोटों से जयंत चौधरी आगे चलते, तो कभी सत्यपाल सिंह। लेकिन शाम तक स्थिति और भी कांटे की हो गई, जब जीत का अंतर 20 और 50 वोटों का हो गया। फिर रात नौ बजे के करीब स्थिति साफ होने लगी और भाजपा उम्मीदवार डॉ सत्यपाल सिंह की बढ़त होती चली गई। रात्रि साढ़े ग्यारह बजे पोस्टल बैलट पेपरों की गिनती ने डॉ सत्यपाल सिंह की जीत में और इजाफा किया। मध्य रात्रि में जिला प्रशासन ने डॉ सत्यपाल सिंह को 23502 मतों से विजयी घोषित कर दिया।
भाजपा उम्मीदवार डॉ सत्यपाल सिंह को पांच लाख पच्चीस हजार सात सौ नवासी, जबकि उनके प्रतिद्वंदी महागठबंधन उम्मीदवार जयंत चौधरी को पांच लाख दो हजार दो सौ सत्तासी वोट मिले। जिला निर्वाचन अधिकारी पवन कुमार ने बागपत संसदीय सीट से भाजपा के डॉ सत्यपाल सिंह की जीत पर मोहर लगाते ही जनपद में जश्न का माहौल बन गया। इस बीच पुलिस ने संवेदनशील गांवों पर नजर रखी रही। जनपद में किसी प्रकार की कोई हिंसक घटना न हो इसके लिए व्यापक पुलिस व्यवस्था की गई थी।
हिन्दुस्तान समाचार



 
Top