अंतरराष्ट्रीय

तुलसी गाबार्ड ने लाखों आव्रजकों को नागरिकता के अधिकार देने की बात कही.

06/06/2019

लॉस एंजेल्स 06 जून (हिस)। राष्ट्रपति चुनाव-2020 में डेमोक्रेटिक पार्टी की संभावित प्रत्याशी तुलसी गाबार्ड ने कहा है कि अमेरिकी नागरिकता का सपना लिए लाखों आव्रजकों को उनके नागरिकता के अधिकार मिल जाने चाहिए। इसके लिए रिपब्लिकन पार्टी के भी अनेक ऐसे प्रतिनिधि हैं जो पार्टी लाइन से हट कर डेमोक्रेट के साथ है। उन्होंने कहा कि ये बच्चे जब अमेरिका आए थे, तब एक सपना ले कर आए थे। आज उनका कोई देश नहीं है। ऐसी स्थिति में रिपब्लिकन को प्रतिनिधि सभा में पारित विधेयक पर मानवीय आधार पर भी साथ देना चाहिए।
विदित हो, मंगलवार को प्रतिनिधि सभा ने अमेरिकी ड्रीमर एवं आश्वासन अधिनियम 2019 को 187 मतों के ख़िलाफ़ 237 मतों से पारित कर दिया था। अमेरिका में सात लाख तीन हज़ार आठ सौ नब्बे ऐसे ड्रीमर हैं, जो वर्षों पहले छोटी आयु में मेक्सिको सीमा से अवैध रूप से आ गए थे।इनमें 2590 भारतीय भी हैं, जिनका भविष्य अधर में लटका हुआ है। ये बच्चे अब युवा हो गए हैं । पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने दूसरे कार्यकाल में एक कार्यकारी आदेश जारी कर इन सभी ड्रीमर के संरक्षण के लिए एक विधान बनने तक उन्हें  अमेरिका में अस्थाई तौर पर रहने और  काम करने की इजाज़त दी थी। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सत्तारूढ़ होने बाद ड्रीमर के मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। इस प्रस्ताव के सीनेट में पारित होने और ट्रम्प की स्वीकृति मिलने की दूर दूर तक संभावनाएँ नहीं है। प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने रिपब्लिकन से अपील की है कि वे इस प्रस्ताव को पारित कराएँ।  
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गत मार्च में मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लिए सीधे पाँच अरब डालर के प्रस्ताव पर सहमति व्यक्त किए जाने का अनुरोध किया था। इस पर  डेमोक्रेट बहुल प्रतिनिधि सभा ने ट्रम्प के प्रस्ताव को सिरे से ख़ारिज कर दिया था। ट्रम्प ने इस प्रस्ताव में कुछेक शर्तों के साथ ड्रीमर को दस वर्षों तक अमेरिका में अस्थाई रूप से रहने और काम करने के अधिकार की बात की थी।

हिंदुस्थान समाचार/ ललित/सुभाष