राष्ट्रीय

Blog single photo

दरबार साहिब में माथा टेकने आए सात पाकिस्तानी अमृतसर में फंसे

26/03/2020

-जिला प्रशासन ने निगरानी में ले गृहमंत्रालय को भेजी जानकारी 

संजीव शर्मा
चंडीगढ़, 26 मार्च (हि.स.)। पाकिस्तान से भारत घूमने आए सात पाकिस्तानी नागरिक कर्फ्यू के चलते अमृतसर में फंस गए हैं। जिला प्रशासन को जब इसकी सूचना मिली तो गुरुवार को उन्हें अपनी निगरानी में लिया गया। अब गृहमंत्रालय तथा विदेश मंत्रालय के माध्यम से उन्हें पाकिस्तान भेजने का प्रयास किया जा रहा है। 
गत 13 मार्च को पाकिस्तान से दो परिवार 25 दिन का पर्यटक वीजा लेकर भारत में घूमने के लिए आए थे। इनमें रमेश लादू, मीरा, इंदिरा, नीलम, विक्रमदास और जीवन लाल शामिल हैं। यह पाकिस्तानी हिन्दू परिवार अब वाघा के रास्ते पाकिस्तान जाने के लिए तीन दिन पहले अमृतसर के दरबार साहब परिसर में पहुंचे थे। कोरोनावायरस के चलते बुधवार की रात जब एसजीपीसी द्वारा सराय को खाली करवाया जा रहा था तो इन सभी को वहां से निकाल दिया गया।

 इसके बाद यह परिवार अमृतसर रेलवे स्टेशन के बाहर आकर बैठ गया। भूखे प्यासे इन परिवार वालों को जब पुलिस वालों ने पूछा तो उन्होंने बताया कि यह पाकिस्तान जाना चाहते हैं लेकिन वाघा सीमा पर रास्ता बंद होने के कारण वह यहां फंस गए हैं। जिला प्रशासन को जब इसकी भनक लगी तो उसके हाथ पांव फूल गए। इनके खाने और रहने का इंतजाम किया गया। अब अमृतसर जिला प्रशासन द्वारा इन परिवारों को वापस पाकिस्तान भेजने के लिए गृहमंत्रालय तथा विदेश मंत्रालय से गुहार लगाई गई है।

इस संबंध में अमृतसर के जिला उपायुक्त शिवदुलार सिंह ढिल्लों ने बताया कि सभी पाकिस्तानी नागरिकों को रेलवे स्टेशन के निकट एक धर्मशाला में रखा जा रहा है। जहां इनके खाने पीने की व्यवस्था की गई है। जल्द ही पाकिस्तान वापस भेजने का प्रबंध भी किया जा रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top