राष्ट्रीय

Blog single photo

भाजपा के खिलाफ अमर्त्य सेन के बयान को भुनाने में जुटी ममता‌ सरकार

11/07/2019

ओम प्रकाश
कोलकाता, 11 जुलाई (हि.स.)।  पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अमर्त्य सेेन के जय श्री राम को लेकर दिये गये बयान को राज्य में भाजपा के खिलाफ भुनाने की   मुहिम में जुट गई है। इस संबंध में  राज्य के शहरी विकास और नगर पालिका मामलों के  मंत्री फिरहाद हकीम ने निर्देश दिया है कि पूरे राज्य में नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन की तस्वीरों के साथ उनके उस बयान को फ्लेक्स पर लगाया जाए जिसमें उन्होंने जय श्री राम की खिलाफत की थी। 
उल्लेखनीय है कि जादवपुर विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में संबोधन करते हुए अमर्त्य सेन ने कहा था कि मैंने जय श्री राम का नारा पश्चिम बंगाल में कभी नहीं सुना। यहां लोग जय मां दुर्गा कहते हैं लेकिन अब जय श्री राम का इस्तेमाल यहां लोगों को मारने पीटने के लिए किया जा रहा है। अब सरकारी तौर पर अमर्त्य सेन के इस बयान को पोस्टर बनाकर नगर पालिका विभाग की ओर से जगह-जगह लगाया जा रहा है। आखिर लोक लाभ और विकास के लिए चुनी जाने वाली सरकार इस तरह से राजनीतिक बयानबाजी का पोस्टर सरकारी तौर पर क्यों छपवा रही है, इस बारे में किसी भी बड़े अधिकारी अथवा मंत्री ने कोई जवाब नहीं दिया। 
दरअसल जय श्रीराम के नारे से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की  चिढ़ जगजाहिर है। ममता राज्य में  जहां जाती हैं वहां जय श्रीराम के नारे से उनका स्वागत किया जाता है। अब  सरकारी तौर पर राज्य सरकार ने अमर्त्य सेन को पोस्टर-ब्वाय बनाकर जय श्री राम के खिलाफ अपनी मुहिम को धार देने की कोशिश कर रही है।
खबर है कि मंत्री फिरहाद हकीम के निर्देश पर शहरी विकास और नगर पालिका विभाग ने राज्य भर की अपनी इकाइयों और संस्थानों को ई-मेल भेजा है जिसमें पूरे राज्य में अमर्त्य सेन के बयान का पोस्टर बनाकर लगाने की बात कही गई  है। इसकी शुरुआत कोलकाता से की गई है। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top