चुनावी विशेष

Blog single photo

झारखंडःभाजपा के पीएन सिंह के नाम सबसे बड़े अंतर से जीत का रिकॉर्ड,मुंडा सबसे कम वोटों से जीते

24/05/2019

विनय कुमार 
रांची, 24 मई (हि.स.)। झारखंड में लोकसभा की 14 सीटों में से भाजपा गठबंधन ने 12 सीटों पर जीत दर्ज की। एक-एक सीट कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) जीतने में कामयाब रहा। राज्य में भाजपा के पीएन सिंह ने सबसे अधिक मतों से जीतने का रिकॉर्ड बनाया। जबकि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा सबसे कम वोटों से जीतने वाले उम्मीदवार रहे।
राज्य में सबसे बड़ी जीत धनबाद से भाजपा उम्मीदवार पशुपतिनाथ सिंह ने दर्ज की। उन्होंने पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद को 486194 मतों से हराया। पशुपतिनाथ सिंह को 827234 मत मिले। जबकि कीर्ति आजाद को 341040 मत मिले। राज्य में दूसरी सबसे बड़ी जीत दर्ज करने का श्रेय हजारीबाग के भाजपा उम्मीदवार और केन्द्रीय मंत्री जयंत सिन्हा को मिला। सिन्हा ने कांग्रेस के गोपाल प्रसाद साहू को 479548 मतों से पराजित किया। जयंत सिन्हा को 728798 मत मिले और गोपाल साहू को 249250 वोट मिले।



राज्य में बड़ी जीत दर्ज कराने में तीसरा स्थान पलामू से भाजपा उम्मीदवार बीडी राम का रहा। उन्होंने राजद उम्मीदवार घूरन राम को 477606 मतों से हराया। बीडी राम को 755659 मत मिले जबकि घूरन राम को 278053 मतों से संतोष करना पड़ा।



राज्य में बड़ी जीत दर्ज करने में चौथा स्थान कोडरमा से भाजपा उम्मीदवार अन्नूपर्णा देवी का रहा। अन्नपूर्णा ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो ) उम्मीदवार बाबूलाल मरांडी को 455600 मतों से हराया। अन्नपूर्णा को 753016 मत मिले और बाबूलाल मरांडी को केवल 297416 वोट मिले।



पांचवें स्थान पर चतरा से भाजपा उम्मीदार सुनील कुमार सिंह रहे। उन्होंने कांग्रेस के मनोज कुमार यादव को 377871 मतों से हराया। भाजपा उम्मीदवार सुनील को 528077 मत मिले। जबकि कांग्रेस उम्मीदवार को केवल 150260 मत मिले। 
राज्य में सबसे कम मतों से जीतने का रिकॉर्ड राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा के नाम रहा। उन्होंने बेहद कांटे की टक्कर में कांग्रेस के कालीचरण मुंडा को 1445 मतों से हराया। अर्जुन मुंडा को 382638 मत मिले जबकि कालीचरण मुंडा को 381193 वोट मिले। अर्जुन मुंडा 2009 में जमशेदपुर से पहली बार सांसद बने थे।



जमशेदपुर से भाजपा उम्मीदवार विद्युतवरण महतो ने भी राज्य के पूर्व मंत्री और झामुमो उम्मीदवार चंपई सोरेन को 302090 से हराया। विद्युतवरण को 679632 मत मिले जबकि चंपई सोरेन को 377542 वोट मिले।



रांची से भाजपा उम्मीदवार संजय सेठ ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस उम्मीदवार सुबोधकांत सहाय को 283026 मतों से पराजित किया। सेठ पहली बार सांसद बने हैं। सेठ को 706828 वोट मिले। जबकि सुबोधकांत सहाय को 423802 मतों से संतोष करना पड़ा।



गिरिडीह से भाजपा गठबंधन उम्मीदवार आजसू के चंद्रप्रकाश चौधरी झामुमो जगन्नाथ महतो को 248347 मतों से हराया। चौधरी को 648277 वोट मिला जबकि जगन्नाथ महतो को 399930 मत मिले।



गोड्डा से भाजपा उम्मीदवार निशिकांत दूबे ने पूर्व मंत्री और झाविमो उम्मीदवार प्रदीप यादव को 184227 मतों से पराजित किया। निशिकांत दूबे को 637610 मत मिले जबकि प्रदीप यादव को 453383 वोट मिले।
राजमहल में झामुमो उम्मीदवार विजय कुमार हांसद ने भाजपा उम्मीदवार हेमलाल मुर्मू को 99195 मतों से हराया। विजय को 507830 मत मिले जबकि हेमलाल को 408635 मतों पर संतोष करना पड़ा।



सिंहभूम में कांग्रेस की गीता कोड़ा ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ को 72155 मतों से पराजित किया। गीता कोड़ा को 431815 तथा लक्ष्मण को 359660 मत मिले।
दुमका संसदीय सीट से भाजपा के उम्मीदवार सुनील सोरेन ने झाविमो सुप्रीमो शिबू सोरेन को 47590 मतों से हराया। सुनील ने अपने तीसरे प्रयास में शिबू सोरेन को परास्त करने में सफलता अर्जित की। सुनील 2009 और 2014 का लोकसभा चुनाव शिबू सोरेन के हाथों में पराजित हुए थे। लेकिन इसबार उन्होंने झारखंड के दिग्गज नेता शिबू सोरेन को धूल चटा दी। सुनील सोरेन को 484923 मत मिले जबकि शिबू सोरेन 437333 मत मिला।



लोहरदगा में भाजपा उम्मीदवार और केन्द्रीय मंत्री सुदर्शन भगत ने कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत को 10363 मतों से पराजित किया। सुदर्शन भगत को 371595 मत मिले जबकि सुखदेव भगत को 361232 मत मिला। 
 हिन्दुस्थान समाचार


 
Top