अपराध

Blog single photo

जाली नोटों के साथ एसटीएफ के हत्थे चढ़े दो तस्कर

17/06/2019

ओमप्रकाश
कोलकाता, 17 जून (हि.स.)। महानगर कोलकाता में एक बार फिर जाली नोट तस्करी की एक बड़ी खेप को नाकाम करने में कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स(एसटीएफ) को सफलता मिली है। सोमवार सुबह राजधानी के हेयर स्ट्रीट थाना इलाके में स्थित स्ट्रैंड रोड पर ईस्टर्न रेलवे को-ऑपरेटिव बैंक के पास से दो तस्करों को गिरफ्तार किया गया। इनके पास से पांच लाख रुपये के जाली नोट बरामद किए गए।
गिरफ्तार तस्करों के नाम मालदा जिले के वैष्णवनगर थाना अंतर्गत चैनपाड़ा गांव के निवासी असीकुल शेख उर्फ बंदा(21) और इसी थाना क्षेत्र के मंडई चयनपाड़ा निवासी वसीम अकरम उर्फ वसीम(21) है। एसटीएफ की पूछताछ में आरोपितों ने स्वीकार किया कि सीमाई क्षेत्र में इनका मूल आवास होने की वजह से बांग्लादेश से जाली नोटों को तस्करी कर कोलकाता लाते थे। यहां किसी और के हवाले करना था, उसके पहले ही एसटीएफ टीम ने उन्हें पकड़ लिया।
इस बारे में एसटीएफ के उपायुक्त शुभंकर सिन्हा सरकार ने सोमवार को बताया कि गत आठ जून को एसटीएफ की टीम ने सियालदह स्टेशन के बाहर से सलवार हुसैन नाम के एक मालदा निवासी जाली नोट तस्कर को गिरफ्तार किया था। उसने बताया था कि उसका एक पूरा गिरोह जाली नोट तस्करी के लिए काम करता है जो राज्य के विभिन्न हिस्से से कोलकाता और आसपास के क्षेत्रों में तस्करी के कारोबार से जुड़े हुए हैं। उसी ने बताया था कि रविवार रात कोलकाता में ये दोनों जाली नोट लेकर तस्करी के लिए पहुंच जाएंगे और सोमवार सुबह जाली नोट को दूसरे शख्स के हवाले किया जाएगा। इसके बाद एसटीएफ की टीम ने पूरी राजधानी में निगरानी बढ़ा दी थी।
सूचना के मुताबिक सोमवार सुबह सवा छह बजे के करीब हेयर स्ट्रेट थाना इलाके के स्ट्रैंड रोड पर कोऑपरेटिव बैंक के पास इन दोनों संदिग्धों को देखा गया। मौके पर मौजूद एसटीएफ की टीम ने इन्हें चारों तरफ से घेरकर पकड़ि लिया। इनके पास मौजूद बैग की तलाशी लेने पर उसमें 2000 रुपये के 250 जाली नोट बरामद हुए, जिसकी कीमत पांच लाख रुपये है। पूछताछ में आरोपितों ने स्वीकार किया कि कोलकाता में किसी तीसरे शख्स को यह जाली नोट दिए जाने थे। पूछताछ की प्रक्रिया पूरी करने के बाद सुबह 9:55 बजे इन्हें गिरफ्तार किया गया। इनके खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा-120बी, 489बी और 489सी के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू की गई है। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top