अपराध

बैंकों की सुरक्षा को लेकर पुलिस ने बनाई रणनीति.

04/06/2019

शरद
लखनऊ, 04 जून (हि.स.)। लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने अपने सहायक पुलिस अधिकारियों के साथ बैंकों की सुरक्षा को लेकर रणनीति बनाई है। नैथानी ने प्रत्येक थाने से इसकी योजना में एक निरीक्षक या एक उपनिरीक्षक को अपने क्षेत्र के बैंकों की सुरक्षा में लगाया है।  
मंगलवार को बैंकों की सुरक्षा के लिए लगाए गए पुलिस विभाग के निरीक्षक, उपनिरीक्षक अपने क्षेत्रों में निरीक्षण के लिए निकले। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के निर्देशानुसार उन्होंने क्षेत्र के बैंकों के बाहर संदिग्ध दिखने वाले लोगों को रोककर पूछताछ की। पूछताछ के दौरान पुलिस ने विशेष रुप से बैग, फाईल, मोटर साइकिल व उसकी डिग्गी की जांच भी की। 
आलमबाग थाना प्रभारी निरीक्षक आनन्द शाही ने बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने एक बैठक में बैंकों की सुरक्षा के लिए चाक-चौबन्द व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। जो भी व्यक्ति जांच पड़ताल के दायरे में आता है, उसकी जांच होगी। फिर हर व्यक्ति को पुलिस इस दायरे में नहीं लाती है। जो संदिग्ध दिखता है, बस उसी की जांच की जाती है। उन्होंने बताया कि अलग-अलग थाना क्षेत्रों में जांच हो रही है। बैंक के बाहर व भीतर खड़े संदिग्ध की जांच करने के बाद उसे छोड़ दिया जाता है। इसमें कुछ अच्छे लोग भी जांच के दायरे में आते हैं, जिनसे पुलिस अच्छा व्यवहार करती है। 
गौतमपल्ली थाना प्रभारी निरीक्षक परशुराम सिंह ने बताया कि बैंक और एटीएम में रुपये लाने और ले जाने के समय लूट की घटनाएं हो सकती है। इसके लिए पुलिस एहतियातन सुरक्षा का कार्य करती है। बैंकों की सुरक्षा के लिए रोजाना ड्यूटी लगाई जाती है। जिसकी ड्यूटी जिस दिन होती है, वह अपने क्षेत्र में बैंकों की जांच करता है। इसके साथ ही पूरे समय बैंक के बाहर की गतिविधि पर भी पुलिस की नजर रहती है। 
हिन्दुस्थान समाचार