राष्ट्रीय

Blog single photo

बेरोजगारी व जटिल आर्थिक संकट में देश, सरकार के पास नहीं ठोस नीति :कांग्रेस

23/08/2019

अनूप शर्मा

नई दिल्ली, 23 अगस्त (हि.स.)। कांग्रेस का कहना है कि देश वर्तमान में एक जटिल आर्थिक संकट से गुजर रहा है। परिणाम स्वरूप करोड़ों नौकरियां जा रही हैं। खास बात यह है कि सरकार के पास इससे निपटने के लिए कोई ठोस नीति नहीं है।

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस वार्ता कर कहा कि हाल ही में कई क्षेत्रों में बड़ी कंपनियों का आर्थिक संकट सामने आया है। इसके चलते उन्होंने अपने यहां से लोगों को निकाल दिया है। पार्ले ने 10 हजार लोगों को नौकरियों से निकाला है। रुपया लगातार अमेरिकी डॉलर के मुकाबले गिर रहा है। इससे स्पष्ट होता है कि देश वर्तमान में एक जटील आर्थिक संकट से गुजर रहा है। यही बात मुख्य आर्थिक सलाहकार और नीति आयोग के उपाध्यक्ष के बयान से स्पष्ट होता है।

सरकार को इसके लिए जिम्मेदार ठहराते हुए तिवारी ने कहा कि सरकार देश में चल रहे गंभीर आर्थिक संकट में चुप्पी साधे हुए है। प्रधानमंत्री और वित्तमंत्री की ओर से इस पर कोई टिप्पणी नहीं आई है। रोजगार देने के बड़े-बड़े दावे करने वाली सरकार के कार्यकाल में लाखों लोग बेरोजगार हो रहे हैं।

तिवारी ने कहा कि सरकार के पास इस आर्थिक संकट से निपटने के लिए कोई ठोस नीति नहीं है। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के समय अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत थी जिसके चलते देश लगातार 7.8 प्रतिशत की आर्थिक विकास दर से बढ़ता रहा, लेकिन अब ऐसी स्थिति नहीं है। वर्तमान सरकार के पास कोई ठोस आर्थिक नीति नहीं है, जिसके चलते अर्थव्यवस्था के गिरते स्तर को रोका जा सके।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top