क्षेत्रीय

Blog single photo

पीएम के कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को राजस्थान में करेंगे साकार : पूनिया

08/10/2019

डॉ. ईश्वर वैरागी
जयपुर, 08 अक्टूबर (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने कहा कि वे पीएम मोदी के कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को पूरा करने के लिए वे अपनी जी-जान लगा देंगे और प्रदेश के निकाय चुनाव एवं विधानसभा उपचुनाव से कांग्रेस मुक्त भारत अभियान की राजस्थान से शुरूआत करेंगे।
डॉ. पूनिया मंगलवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय पर अपने कार्यभार ग्रहण समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने निशान साधते हुए कहा कि कांग्रेस अभी राष्ट्र्रीय स्तर से लेकर प्रदेश स्तर तक अंतर्कलह से जूझ रही है, जहां केंद्र में मां-बेटे तो प्रदेश में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के बीच सत्ता संघर्ष चल रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अपने बेटे की बेरोजगारी दूर करने में इस कदर व्यस्त हैं कि उन्हें आमजन की समस्याओं से कोई सरोकार नहीं है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के समय किसानों व युवाओं से जो वादे किए थे, उनको पूरा नहीं किया। इसलिए जनता ठगा-सा महसूस कर रही है। जनता महज10 महीने के शासन में ही त्रस्त हो गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा के शीर्ष नेताओं के आशीर्वाद एवं बूथ कार्यकर्ताओं की मेहनत के बल पर 2023 में राजस्थान कांग्रेस मुक्त होगा। उन्होंने प्रदेश में कांग्रेस में बसपा नेताओं के शामिल होने पर चुटकी लेते हुए कहा कि सरकार मजबूत की जगह और कमजोर हो गई है। 
उन्होंने कहा कि राजनीति मूल्यों और सिद्धांतों पर होती है, जो भाजपा के संस्कारों में है। अगर कोई मुझसे मेरी वसीयत के बारे में पूछे तो मेरा सिर्फ इतना ही कहना कि मैंने पिछले 37 साल जो देश और समाज के लिए काम किया और अब इस पार्टी के लिए मेरी जान भी चली जाए तो मुझे परवाह नहीं। मेरी एक ही इच्छा है कि जब मेरा जनाजा निकले तो कमल के फूल और पार्टी के झंडे के साथ ही निकले।
पूनिया ने अपने भाषण में कई बार अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का जिक्र किया। पूनियां ने इस मौके पर जनसंघ के संस्थापक श्यामाप्रसाद मुखर्जी, पं. दीनदयाल उपाध्याय, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वायपेयी व मदन लाल सैनी को याद किया। संघ के वरिष्ठ प्रचारक सोहन सिंह एवं लक्ष्मण सिंह को याद करते हुए उन्हें अपना प्रेरणास्त्रोत बताया। उन्होंने पूर्व अध्यक्ष भंवरलाल शर्मा और हरिशंकर भाभड़ा के संस्मरणों को भी साझा किया।
इस माैके पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर ने कहा कि मैं केन्द्रीय नेतृत्व को धन्यवाद देना चाहता हूं कि एक साधारण से कार्यकर्ता को प्रदेशाध्यक्ष बनाया है। उन्होंने संघर्षशील कार्यकर्ता का उदाहरण देते हुए सतीश पूनियां की जमकर प्रशंसा की और कहा कि यह भाजपा पार्टी कार्यकर्ताओं की पार्टी है। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया ने कहा कि आज का सम्मान विचारधारा का सम्मान है। हम सबको भ्रष्टाचार के खिलाफ मिलकर लड़ाई लड़नी है। 
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भी सतीश पूनियां के पदभार ग्रहण समारोह में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि भाजपा परिवारवाद वाली पार्टी नहीं है बल्कि लोकतांत्रिक पार्टी है जिसके चलते पूनियां अध्यक्ष बने है। 
समारोह में केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी. सतीश, प्रदेश महामंत्री (संगठन) चन्द्रशेखर, केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, केंद्रीय मंत्री कैलाश चाैधरी, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ सहित सांसद, विधायक एवं भाजपा के कई वरिष्ठ नेता, पदाधिकारी और हजारों की तादाद में कार्यकर्ता मौजूद रहे।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top