क्षेत्रीय

Blog single photo

उप्र में बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, लखनऊ में नहीं हो सकी विश्व जनसंख्या दिवस की रैली

11/07/2019

पीएन द्विवेदी
लखनऊ, 11 जुलाई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के अधिकांश जिलों में लगातार दो दिन से हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। तेज बारिश के चलते विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर राजधानी लखनऊ में गुरुवार सुबह साढ़े आठ बजे आयोजित होने वाली रैली भी स्थगित करनी पड़ी।
प्रदेश की राजधानी लखनऊ, वाराणसी, गाजीपुर, प्रयागराज, अयोध्या, बाराबंकी, रायबरेली और गोंडा समेत कई जिलों में पिछले 24 घंटे से रुक-रुक कर तेज बारिश हो रही है। लखनऊ में तो बुधवार देर रात शुरू हुई बारिश आज सुबह करीब नौ बजे तक बंद ही नहीं हुई। इसके चलते बच्चे स्कूल नहीं जा सके। विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा आज सुबह साढ़े आठ बजे राजधानी लखनऊ में जनजागरुकता रैली का आयोजन किया गया था, लेकिल तेज बारिश के चलते रैली नहीं हो सकी।
हालांकि लगातार हो रही बारिश से किसान खुश हैं। उनके धान की रोपाई आसान हो गई है। साथ ही लोगों को पिछले दो दिनों से गर्मी से भी काफी राहत मिली है। लेकिन, बारिश के चलते हादसे भी हो रहे हैं, जिससे पिछले 24 घंटे में प्रदेश में आधे दर्जन से अधिक लोगों की मौत भी हो गई और कई लोग घायल हो गये। 
लगातार बारिश से कई इलाकों में भारी जल भराव से भी लोगों को बड़ी परेशानी हो रही है। राजधानी लखनऊ, आगरा, प्रयागराज और वाराणसी जैसे नगरों की अधिकांश सड़कों पर जलभराव के कारण यातायात भी बाधित हो रहा है। 
आंचलिक मौसम केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता का कहना है कि पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के आसपास के इलाकों में कम हवा का एक दबाव क्षेत्र बना हुआ है, जिसकी वजह से इस समय समूचे उत्तर प्रदेश में मानसून सक्रिय है। गुप्ता ने बताया कि अगले 24 घंटों तक प्रदेश के कई क्षेत्रों में तेज बारिश की संभावना बनी हुई है। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top