अपराध

Blog single photo

थानेदार पर फायरिंग करने वाला खनन माफिया एनकाउंटर में ढेर

06/10/2019

महेश पटेरिया
झांसी, 06 अक्टूबर (हि.स.)। खनन माफिया पर शिकंजा कसना गुरसराय थाना क्षेत्र में मोंठ थाना प्रभारी निरीक्षक धर्मेद्र सिंह चौहान को महंगा पड़ गया। शनिवार देर रात बदमाशों ने उन पर फायरिंग कर उनकी कार लूट ली। इसके बाद पुलिस ने गुरसराय थाना क्षेत्र में मुठभेड़ में एक खनन माफिया को ढेर कर दिया।

मोंठ प्रभारी निरीक्षक धर्मेद्र सिंह चौहान ने दो दिन पूर्व अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई कर खनन माफिया पुष्पेन्द्र यादव का ट्रक सीज कर दिया था। इससे नाराज पुष्पेंद्र ने शनिवार की रात करीब 09 बजे मोंठ थाना प्रभारी पर उस समय हमला कर दिया जब वह अपनी कार से जा रहे थे। खनन माफिया अपने साथी के साथ थाना प्रभारी की कार भी लूट ले गए। डीआईजी सुभाष सिंह बघेल, एसएसपी डॉ. ओपी सिंह आदि पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंचे। मौके से पुलिस को बाइक और कारतूस बरामद हुए। पुलिस ने पूरे इलाके में नाकेबंदी कर दी। इस बीच खनन माफिया पुष्पेंद्र यादव और उसके साथियों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। पुलिस को देखकर पुष्पेंद्र ने फायरिंग कर दी, पुलिस की जवाबी फायरिंग में पुष्पेंद्र ढेर हो गया।

मिलने के बहाने बुलाया था थाना प्रभारी को
धर्मेंद्र दो दिन पहले छुट्टी पर अपने घर कानपुर गए थे। शनिवार की देर रात कानपुर से अपनी कार से मोंठ आ रहे थे। खनन माफिया पुष्पेंद्र ने उनको फोन करके मिलने काे कहा। इंस्पेक्टर मोंठ से पहले हाइवे पर मिलने पहुंचे। तभी खनन माफिया ने फायरिंग कर दी। गोली उनके बगल से निकल गई। इसके बाद माफिया और उसके साथी ने इंस्पेक्टर पर हमला कर दिया।

बालू माफिया ने बदला लेने के लिए चलाई गोली
पुलिस कप्तान डॉ. ओपी सिंह ने बताया कि दो दिन पहले मोंठ इंस्पेक्टर ने एक बालू माफिया की गाड़ी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सीज कर दी थी। इसके बाद बदमाशों ने इस घटना को अंजाम दिया है। एसएसपी ने बताया कि बदमाशों की तलाश में छापेमारी की जा रही है। एसपी ग्रामीण राहुल मिठास ने बताया कि पुलिस अन्य दोनों भागे हुए बदमाशों को भी जल्द पकड़ लेगी।
हिन्दुस्थान समाचार 


 
Top