अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

थीम ने इतिहास रचा, अपने देश के लिए पहला यू एस ओपन का पुरुष एकल ख़िताब जीता

14/09/2020

थीम ने इतिहास रचा, अपने देश के लिए पहला यू एस ओपन का पुरुष एकल
ख़िताब जीता  









- पहले दो सेट गंवा कर पांंच सेटों में जीत हासिल
करने वाले पांचवें खिलाड़ी बने
 









ललित मोहन बंसल 



न्यूयॉर्क 14
सितम्बर (हि.स.)। डॉमिनिक
थीम ने पहली बार अमेरिकी ओपन में पुरुष एकल का ख़िताब जीत कर इतिहास रच दिया। उसने
फ़ाइनल में रविवार को यहाँ जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वरेव को से दो सेट पिछड़ने के
बाद पांंचवें सेट के टाइब्रेकर में कड़े संघर्ष के साथ विजय हासिल की।
 









यह पहला मौक़ा है जब 17 वर्ष के बाद किसी खिलाड़ी ने पूर्व विजेता और
उपविजेता की अनुपस्थिति में यह ख़िताब चार घंटे से अधिक समय तक चले फ़ाइनल में
जीता।
 आस्ट्रिया के डमिनिक थीम ने ज्वरेव को 2-6, 4-6, 6-4 ,6-3 और फिर पाँचें सेट के टाइब्रेक में 7-6 से परास्त किया। यह पांंचवे ऐसे  खिलाड़ी
हैं
,
जिन्होंने यू एस ओपन के
पुरुष एकल के फ़ाइनल में दो सेटों में पिछड़ने के बाद पांंच सेटों के संघर्ष पूर्ण
मकाले में विजय पाई है।
 









इस खिताबी जीत से अमेरिका के शीर्ष बैंक चेज़ मोर्गन ने विजेता को
तीस लाख डालर और उपविजेता को पंद्रह लाख डालर इनामीराशि दी। थीम की  यह पहली
 ग्रैंड स्लैम जीत है।
 आर्थर एशे स्टेडियम में यूएस ओपन इस बार कोरोना
संक्रमण के कारण दर्शकों के बिना ही खेला गया
, जहाँ तालियाँ बजाने वाला और
खिलाड़ी की ग़लती पर खीज निकालने वाला कोई नहीं था।
यह पहला ऐसा मौक़ा है, जब किसी ऑस्ट्रियाई ने यूएस ओपन जीता
है।









एक अच्छी खिली धूप और सुहावने मौसम में खेले गए
इस फ़ाइनल में जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने पहले दो सेटों में मैच पर पूरा
नियंत्रण रखा। बेशक ज्वरेव की
धमाकेदार तेज़ सर्विस (138 मील प्रति घंटे) आकर्षक रही
और उसे डओ सेटों में जीत दिलाने में सहायक बनी। इस बीच उसने ना केवल चार विजयी अंक
बनाए
, बल्कि दो ब्रेक प्वाइंट भी जीते। इस तरह पहला
सेट में
6-2 से जीता तो दूसरे सेट में उसने थीम के एक ब्रेक
पॉइंट को टालते हुए एक बेहतरीन संक्षिप्त रैली का परिचय भी दिया। ज्वेरेव ने अंत
में दूसरा सेट
6-4 से अपने नाम किया।



थीम का तीसरे सेट में रंग बदला हुआ था। उसने
आक्रामक खेल का प्रदर्शन करते हुए ज्वेरेव की
12 अप्रत्याशित त्रुटियों का
लाभ उठाया। उन्होंने अगला सेट अगले दो सेट
6-4, 6-3 से जीत लिए। इन दोनों के बीच
पांंचवांं और निर्णायक सेट संघर्षपूर्ण रहा
, जिसमें दोनों ने एक एक अंक
के लिए जी जान एक कर दी। देखा जाए तो थीम ने पांचवें सेट में जब बाज़ी
5-5
गेम
से बराबर थी
, एक अविश्वसनीय शॉट खेल कर एक बार फिर ज्वेरेव
को
6-5 से बढ़त दिला दी।



 



इसके बाद थीम ने बेहतरीन सर्विस और नापे तुले
रिटर्न से ज्वरेव को
टाई ब्रेक के लिए मजबूर
किया। ज्वेरेव ने भी जल्द ही टाईब्रेक में
2-0 की बढ़त हासिल कर ली, लेकिन डबल फ़ाल्ट उसे महंगा
पड़ा।
इस तरह थीम ने सटीक शाट से टाई
ब्रेक में
7-6 की बढ़त लेते हुए पासा पलट दिया। बाद में ज्वरेव ने गले लगते हुए थीम के बढ़िया
खेल की सराहना की
, वहीं दुखी मन से कहा कि उन्हें अफ़सोस है कि
उनके माता-पिता उनका यह खेल देखने को यहांं मौजूद नहीं थे।



 



हिन्दुस्थान समाचार








 
Top