शादी को लेकर नुसरत के संसद में झूठ बोलने पर भाजपा ने उठाया सवाल, तृणमूल ने किया पलटवार


Blog single photo
ओम प्रकाश

कोलकाता, 10 जून (हि. स.)। बांग्ला फिल्मों की मशहूर अभिनेत्री और तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां ने पति निखिल जैन से अलग होने की घोषणा के साथ दावा किया था कि उनकी शादी वैध नहीं है। नुसरत के इस बयान के बाद अब भारतीय जनता पार्टी ने संसद में झूठ बोलने का आरोप लगाया है। इस पर तृणमूल कांग्रेस ने पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री के अतीत के हलफनामा देखने की नसीहत दे दी।

गुरुवार को पार्टी की आईटी सेल के प्रमुख और बंगाल के सह प्रभारी अमित मालवीय ने कहा है कि सांसद बनने के बाद नुसरत जहां ने संसद भवन में निखिल जैन को अपना पति बताया था। तो क्या वह संसद में ऑन रिकॉर्ड पूरे देश से झूठ बोली थीं? ट्विटर के जरिए भाजपा नेता मालवीय ने एक वीडियो जारी किया है और उसके आधार पर दावा किया है कि नुसरत जहां ने सदन के भीतर अपनी शादी को लेकर झूठ बोला है। मालवीय ने नुसरत जहां से सवाल किया है कि क्या उन्होंने संसद के फ्लोर पर निखिल जैन के साथ अपनी शादी को लेकर झूठ बोला था? लोकसभा में उनके संसद की सदस्यता का शपथग्रहण का हवाला देते हुए मालवीय ने ट्वीट किया है, 'टीएमसी एमपी नुसरत जहां रूही जैन की निजी जिंदगी, उनकी किसके साथ शादी हुई है या वो किसके साथ रह रही हैं, इससे किसी को मतलब नहीं होना चाहिए। लेकिन, वो चुनी हुई जनप्रतिनिधि हैं और संसद के रिकॉर्ड में है कि उनकी निखिल जैन के साथ शादी हुई है। क्या उन्होंने सदन में झूठ बोला?' 

इधर, अमित मालवीय के इस बयान पर तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने पलटवार किया है। उन्होंने इशारे-इशारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पत्नी के बीच अलगाव का जिक्र किया। उन्होंने कहा है कि मालवीय को बोलने से पहले प्रधानमंत्री का अतीत का हलफनामा देखना चाहिए। मालवीय के ट्वीट के बाद तृणमूल प्रवक्ता कुणाल घोष ने ट्वीट कर लिखा, "जिनके खुद के घर कांच के होते हैं वह दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकते। बोलने से पहले प्रधानमंत्री का अतीत का हलफनामा देखना चाहिए।" हिन्दुस्थान समाचार
You Can Share It :