अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

इमरान खान की बौखलाहट आई सामने, युद्ध की दी धमकी

27/09/2019

पी.के. अरविंद

न्यूयॉर्क, 27 सितम्बर (हि.स.)। संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) के 74वें सत्र में शुक्रवार को एक तरफ जहां भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व को शांति और सह-अस्तित्व का संदेश दिया, वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद हथियार उठा लेने से लेकर परमाणु युद्ध तक की धमकी दे दी। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री का पूरा भाषण कश्मीर पर ही केंद्रित रहा। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र से इस मामले में दखल देने की मांग की है। इमरान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच को जैसे भारत के विरुद्ध जहर उगलने के लिए प्रयोग किया।

उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोग 55 दिन से बंधक बनाए गए हैं। वहां कर्फ्यू लगाया गया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जब भी वहां से कर्फ्यू हटेगा, खून की नदियां बहेंगी। कश्मीर में जिस हालात में लोग रह रहे हैं अगर उस हालात में वह खुद होते तो हथियार उठा लेते। उन्होंने इस्लामी आतंकवाद शब्द के प्रयोग पर भी आपत्ति जताई और कहा कि अब तो हिजाब को भी आतंकवाद के प्रतीक के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। लेकिन लोग यह नहीं समझ रहे हैं कि जब आप किसी बड़े समुदाय को सताएंगे, दबाएंगे तो वह अंततः हथियार उठाने को मजबूर हो ही जाएगा। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने एक बार फिर युद्ध की आशंका जताते हुए कहा कि वह पारम्परिक युद्ध में हार की आशंका को देखते हुए अपने अस्तित्व की रक्षा के लिए परमाणु हथियारों के प्रयोग से भी पीछे नहीं हटेंगे। ऐसे में उसका खतरा दो देशों की सीमाओं तक नहीं रहेगा बल्कि उसका असर व्यापक होगा इसलिए यह संयुक्त राष्ट्र की जिम्मेदारी है कि वह कश्मीर के मामले में दखल दे और वहां के लोगों और नेताओं को उनका हक दिलाए। 

हिन्दुस्थान समाचार 


 
Top