क्षेत्रीय

Blog single photo

पांरपरिक वेशभूषा में योगी आदित्यनाथ ने शाही तरीके से की श्रीनाथ की पूजा

08/10/2019

- विजयदशमी पर्व पर गोरक्षपीठाधीश्वर के साथ भव्य शोभायात्रा निकली

आमोदकान्त 
गोरखपुर, 08 अक्टूबर (हि.स.)। विजयदशमी पर गोरखनाथ मंदिर में पारंपरिक पूजन-अनुष्ठान मंगलवार को हुआ। गोरक्षपीठाधीश्वर के रूप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रीनाथ जी का पूजन किया। विशेष परिधान में बाहर आए गोरक्षपीठाधीश्वर के साथ भव्य शोभायात्रा निकली।

पारंपरिक शस्त्रों के साथ नाथ योगियों, पुजारियों व संतों की यात्रा में त्रिशुल, तलवार व अन्य शस्त्रों के साथ सैनिक की भांति वेदपाठी किशोर युवा शामिल रहे।

शोभायात्रा में बैंड के साथ डमरू, बीन, शंख के साथ कलाकारों द्वारा शौर्य और आध्यात्म का प्रदर्शन किया गया। शोभायात्रा पहले गुरु गोरक्षनाथ के दरबार में पहुंची। गोरक्षपीठाधीश्वर ने गर्भगृह में श्रीनाथजी का अनुष्ठान एवं पूजन किया। ढोल-नगाड़े के साथ आरती हुई। फिर भैरव मंदिर, दुर्गा मंदिर, रामदरबार, अखण्ड धूनी, हनुमान मंदिर, श्रीकृष्ण दरबार सहित मन्दिर परिसर में स्थापित देवी-देवताओं का मुख्यमंत्री ने दर्शन व पूजन किया। इसके बाद गोरक्षपीठाधीश्वर ने भीम सरोवर पर पूजन किया। मछलियों को चारा डाला। ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ व महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की। पूजा-अनुष्ठान के बाद योगी आदित्यनाथ गोशाला पहुंचे। वहां कुछ देर समय व्यतीत किया। नाथ पंथ के अन्य अनुष्ठान संपन्न होनर के बाद तिलकोत्सव कार्यक्रम शुरू हुआ। पहले साधु-सन्यासियों ने तिलक लगाकर आशीर्वाद लिया। गोरक्षपीठाधीश्वर ने सबको तिलक कर दूब-अक्षत से आशीर्वाद दिया। शाम को गोरक्षपीठाधीश्वर रथ पर सवार होकर मंदिर से बाहर निकले। वे विशेष रथ पर सवार थे। परंपरागत परिधान में वह रथ पर सवार थे। 

यात्रा वाले मार्ग पर दोनों तरफ हजारों की संख्या में लोग जयकारे लगाते हुए खड़े हो स्वागत कर रहे थे। यात्रा पुराने गोरखनाथ स्थित मानसरोवर मंदिर पहुंची। यहां पर भगवान शिव, माता पार्वती, भगवान मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम, लक्ष्मण, भगवती सीता, रामभक्त हनुमान की विधिवत पूजा उनके द्वारा की गई। देर शाम को यह रथयात्रा अंधियारीबाग स्थित रामलीला मैदान पहुंची। यहां गोरक्ष पीठाधीश्वर के रूप में योगी आदित्यनाथ ने रामलीला में मर्यादा पुरुषोत्तम राम, सीता, लक्ष्मण व हनुमान का तिलक कर आरती की।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top