राष्ट्रीय

Blog single photo

कर्नाटकः 12 किमी तैरकर बचाई अपनी जान,एनडीआरएफ के लापता सभी पांच जवान सुरक्षित

12/08/2019

मनोहर यदवट्टि
बंगलुरु/कोप्पल, 12 अगस्त (हि.स.)। राज्य के कोप्पल जिले में गंगावती तालुक के विरापुरगुड्डा में बाढ़ राहत कार्य को अंजाम देते समय लापता हुए एनडीआरएफ और स्टेट फायर फाइटिंग फोर्स के पांच जवानों को सुरक्षित बचा लिया गया है। चार जवानों को एयरलिफ्ट किया गया जबकि एनडीआरएफ के सिविल कमांडर चेतन कुमार ने अविश्वसनीय रूप से 12 किमी तैरकर खुद को बचाने में सफलता हासिल की।
चेतन कुमार ने सुरक्षित बाहर आने के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि तकनीकी खराबी के कारण बचाव दल के सभी पांच सदस्य तुंगभद्रा नदी में बह गए। बांध से 2,00,000 क्यूसेक पानी छोड़े जाने के कारण सभी बह गए। अब तक हमारी टीम ने बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में हजारों लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया है। मैंने 12 किलोमीटर तैर कर अपनी जान बचाई।भारतीय सेना के एक प्रतिबद्ध सैनिक के रूप में, मैं एक बार फिर फंसे हुए लोगों को बचाने के मिशन को जारी रखने का वचन देता हूं। 
उल्लेखनीय है कि बाढ़ राहत कार्य के दौरान इस टीम ने विरापुरगुड्डा इलाके में व्यापक बचाव अभियान को अंजाम दिया। जिसमें इस टीम ने तक़रीबन 75 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया। इनमें 25 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। इसी अभियान के दौरान नौका पलट जाने से बचाव दल के पांच जवान लापता हो गए थे। जिसमें तीन एनडीआरएफ और दो जवान स्टेट फायर फाइटिंग फोर्स के शामिल थे। इसमें से चार जवानों को एयरलिफ्ट कर बचाया गया जबकि सिविल डिफेंस कमांडर चेतन कुमार ने बहादुरी का परिचय देते हुए लगभग 12 किमी तक तैरकर ख़ुद को बचाने में कामयाबी हासिल की।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top