राष्ट्रीय

Blog single photo

अर्थव्यवस्था को लेकर देश को भ्रमित न करें वित्त मंत्री : कांग्रेस

11/09/2019

अनूप शर्मा

नई दिल्ली, 11 सितम्बर (हि.स.)। कांग्रेस ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के ओला, ऊबर के चलते ऑटो क्षेत्र में आई मंदी को एक मजाक बताया है और कहा है कि देश की अर्थव्यवस्था को लेकर वह भ्रमित करने वाले बयान न दें। उन्हें देश को बताना चाहिए कि किन उपायों के जरिए देश 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनेगा।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने बुधवार को दिल्ली में प्रेसवार्ता कर कहा कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण अर्थव्यस्था की खस्ता हालात को लेकर बेतुके बयान दे रही हैं। वह कह रही हैं कि ऑटोमोबाइल क्षेत्र में आई मंदी के पीछे ओला और उबर जैसी टैक्सी सेवा प्रदाता कंपनियां जिम्मेदार हैं। उनका मानना है कि लोग गाड़ी खरीदने की बजाय सस्ती टैक्सी सेवाओं का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर समझ रहे हैं।

सिंघवी ने सीतारमण के बयान को आधार बनाते हुए कहा कि अगर उनका तर्क सही है तो इस हिसाब से लोग घर नहीं खरीद रहे क्योंकि वह किराये पर रहना चाहते हैं। लोगों के अधिक घर खर्च के चलते देश में राजस्व का घाटा हुआ है और विदेशी निवेश स्थानीय लोगों के निवेश के चलते कम हुआ है। उन्हें अपना अतार्किक बयान वापस लेना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी के मंत्री ने दागा है जुमले का गोला। क्या मंदी के पीछे हैं ऊबर और ओला।’’ ओला-उबर कई वर्षों से इस देश में है और मंदी कुछ समय से चल रही है। फिर ये उबर-ओला का कारण अचानक कहां से आया। उन्हें लगता है कि वित्त मंत्री वास्तव में कुछ नहीं कह पायेंगी। ऐसे में वह प्रधानमंत्री मोदी को ही उनकी इस टिप्पणी वापस लेनी चाहिए और देश से इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।   

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि एक सचूना के अधिकार (आरटीआई) के तहत मिली जानकारी के अनुसार 2019 की पहली तिमाही में 18 सार्वजनिक बैंकों में 31 हजार करोड़ रुपये के लगभग 2500 बैंक फ्रॉड सामने आए हैं। इसमें सबसे ज्यादा स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के हैं।

हिन्दुस्थान समाचार 


 
Top