ट्रेंडिंग

Blog single photo

तीन माह बाद बनिहाल-श्रीनगर-बारामुला रेल सेवा हुई बहाल

18/11/2019

दोबारा रेल सेवा शुरू होने पर प्रशासन ने यात्रियों की सुरक्षा के लिए कड़े प्रबंध किए

बलवान सिंह 
श्रीनगर, 18 नवम्बर (हि.स.)। जम्मू संभाग के बनिहाल से लेकर श्रीनगर तक रेल सेवा तीन महीने से ज्यादा समय तक बंद रहने के बाद सोमवार को एक बार फिर शुरू कर दी गई है। रविवार को बनिहाल-श्रीनगर-बारामुला रेलवे ट्रैक पर ट्रेन का ट्रायल सफल रहा। इसके बाद रविवार को ही श्रीनगर से बनहाल के लिए दोपहर में एक ट्रेन भी रवाना की गई जिसके बाद आज यानि सोमवार को बनिहाल-श्रीनगर-बारामुला रेल ट्रैक पर रेल सेवा पूरी तरह से बहाल कर दी गई है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद पांच अगस्त से राज्य प्रशासन ने कानून व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए बनिहाल-बारामुला रेल सेवा को स्थगित कर दिया था। अब दोबारा रेल सेवा शुरू होने पर प्रशासन ने यात्रियों की सुरक्षा के लिए कड़े प्रबंध किए हैं।  

इससे पहले शनिवार को बनिहाल-श्रीनगर रेलवे ट्रैक पर दो बार ट्रेन को चलाया गया था और दोनों ही बार ट्रायल सफल रहने के बाद इस ट्रैक पर रेल सेवा शुरू होने का रास्ता साफ हो गया था। इसी बीच बारामुला-श्रीनगर रेलवे ट्रैक पर बीते मंगलवार से ही रेल सेवा जारी है। बनिहाल से श्रीनगर तक जाने वाले लोगों को बनिहाल-श्रीनगर रेल सेवा दोबारा शुरू होने से अब काफी फायदा होगा। लोग ट्रेन से बड़ी संख्या में श्रीनगर जाते हैं। इसमें एक तो कम किराया और दूसरी समय की बचत भी है। यही नहीं बर्फबारी के कारण जवाहर सुरंग के बंद होने से लोगों को जम्मू से कश्मीर पहुंचने में दिक्कत होती थी।

कश्मीर घाटी में स्थिति पूरी तरह से शांतिपूर्ण 
इसी बीच कश्मीर घाटी में सोमवार को भी स्थिति पूरी तरह से शांतिपूर्ण बनी हुई है। विंटर जोन के स्कूलों में 10वीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के बाद अब पांचवीं से नौवीं कक्षा तक की परीक्षाएं भी शुरू हो गई हैं जिसके लिए प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए हैं। सड़कों पर सभी तरह के वाहन दौड़ रहे हैं। दुकानें तथा व्यापारिक प्रतिष्ठान पहले के मुकाबले अब ज्यादा समय के लिए खुल रहे हैं। लोगों की भारी भीड़ बाजारों में अब एक बार फिर दिखने लगी है। निजी व सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की संख्या लगभग पूरी है। सेब मंडियां लगी हुई हैं और ट्रकों में सेब भरकर अन्य राज्यों में ले जाए जा रहे हैं। कश्मीर घाटी में लैंडलाइन फोन सेवा तथा पोस्ट पेड़ मोबाइल सेवा सुचारू रूप से जारी है जबकि पूरे जम्मू कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवा एहतियात के तौर पर बंद रखी गई है। इस सब के बावजूद घाटी के सभी संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती बरकरार है। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top