आयकर विभाग का नया ई-फाइलिंग पोर्टल लॉन्च, मिलेंगी कई सुविधाएं


Blog single photo

प्रजेश शंकर 

नई दिल्ली, 08 जून (हि.स.)। आयकर विभाग ने नया ई-फाइलिंग पोर्टल 'ई-फाइलिंग 2.0' लॉन्च किया है। आयकर निदेशालय के अनुसार अब www.incometax.gov.in पोर्टल पर आईटीआर फाइल किये जा सकेंगे। पहले आयकर विभाग की आधिकारिक वेबसाइट http://incometaxindiaefiling.gov.in पर आईटीआर दाखिल किये जाते थे। इसे आयकर विभाग ने 1 से 6 जून तक के लिए ऑनलाइन आईटीआर फाइलिंग सुविधा बंद कर दी थी। 

आयकर विभाग ने ट्वीट करके बताया है कि हम अपने सम्मानित करदाताओं के लिए नए ई-फाइलिंग पोर्टल http://incometax.gov.in को गर्व सहित प्रस्तुत करते हैं। इस पोर्टल में ई-फाइलिंग से जुड़े आपके अनुभव को और अधिक सहज, सरल एवं स्मार्ट बनाने हेतु अनेक उत्कृष्ट सुविधाएं हैं। आयकर विभाग ने अपने ट्वीट में लिखा है कि आप ही सर्वोपरि हैं, सदैव !

मोबाइल ऐप 18 जून से शुरू होगा
आयकर विभाग की नई वेबसाइट 7 जून, 2021 से शुरू हो गई है लेकिन कर भुगतान प्रणाली की शुरुआत 18 जून को एडवांस्ड टैक्स की किश्त की तारीख के बाद की जाएगी। इसके अलावा पहली बार दी जा रही मोबाइल ऐप की सुविधा को भी 18 जून से शुरू किया जाएगा। इससे आयकरदाता टैक्स से जुड़े कामकाज ऐप पर भी कर सकेंगे।

आयकर विभाग के नए पोर्टल में ये होंगे अहम फीचर
-आयकर विभाग का नया वेब पोर्टल तत्काल इनकम टैक्स रिटर्न (आइटीआर) को प्रोसेस करने में सक्षम होगा, ताकि करदाताओं का रिफंड जल्द जारी हो सके। 
-सभी इंटरेक्शंस और अपलोड या पेंडिंग एक्शन सिंगल डैशबोर्ड पर दिखाई देगा, ताकि करदाता इन्हें पूरा कर सके। 
-पोर्टल पर मुफ्त आइटीआर प्रीपेरेशन सॉफ्टवेयर ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से मौजूद होगा, जिसमें इंटरेक्टिव सवाल होंगे। ताकि करदाता टैक्स की जानकारी नहीं होने पर भी आसानी से अपना आइटीआर दाखिल कर सकें। 
-आयकर विभाग के नए पोर्टल पर सभी जानकारियां प्रीफिल्ड होंगी, जिससे करदाताओं का डेटा एंट्री का काम बहुत कम हो जाएगा। 
-कददाताओं की मदद के लिए एक नया कॉल सेंटर होगा, जिससे इनके सवालों के तुरंत जवाब मिलेंगे। इसके साथ ही ट्यूटोरियल्स, वीडियो और चैटबोट और लाइव एजेंट जैसी चीजें भी इसमें होंगी। 
-डेस्कटॉप पर मिलने वाले सभी प्रमुख पोर्टल फंक्शंस मोबाइल ऐप पर भी उपलब्ध होंगे, जिसमें मोबाइल नेटवर्क पर पूरी तरह से एक्सेस की सहूलियत मिलेगा। 
-पोर्टल पर नया ऑनलाइन टैक्स पेमेंट सिस्टम लागू किया जाएगा, जिसमें कई नए पेमेंट ऑप्शंस दिए जाएंगे। खासकर नेटबैंकिंग, यूपीआई, क्रेडिट कार्ड, आरटीजीएस और एनईएफटी जैसे भुगतान के विकल्प होंगे। ताकि, करदाता किसी भी बैंक से अपने टैक्स का भुगतान कर पाएंगे। 

उल्लेखनीय है कि आयकर विभाग पिछले एक हफ्ते 1 से 6 जून, 2021 तक के लिए ऑनलाइन आइटीआर फाइलिंग की सुविधा को बंद कर दिया था। आयकर निदेशालय ने इसे 7 जून को देर रात लॉन्च दिया। 

हिन्दुस्थान समाचार 

You Can Share It :