राष्ट्रीय

Blog single photo

आराेप-प्रत्यारोप के साथ कांग्रेस की चिंतन बैठक समाप्त

12/06/2019

रजनीश
रायबरेली, 12 जून (हि.स.)। पूर्वी यूपी के कांगेस के लोकसभा चुनाव में प्रदर्शन को लेकर चिंतन बैठक सम्पन्न हो गई। बैठक में जहां पार्टी की कमजोरी को लेकर कई बातें हुईं, वहीं 2022 के लिए ताकत झोंकने की बात की गई। बैठक में 2022 का विधानसभा चुनाव प्रियंका के नेतृत्व में लड़ने का भी प्रस्ताव किया गया। हार की समीक्षा के लिए बुलाई गई इस बैठक में खूब आरोप प्रत्यरोपो का दौर चला। कमजोरियों की बात हुई और 2022 के पहले उससे निपटने का निर्णय लिया गया। 
बुधवार को चली गोपनीय बैठक में पूर्वी यूपी के सभी उम्मीदवारों, जिला अध्यक्षों व सभी लोकसभा क्षेत्र से एक वरिष्ठ नेता को बुलाया गया था। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर सहित कई प्रमुख नेता मौजूद थे। बैठक में सोनिया और प्रियंका के सामने उम्मीदवारों ने खुलकर अपनी बात की।किसी को जिला संगठन से शिकायत थी तो किसी को अपने निर्वाचन क्षेत्र के बदलने से परेशानी। सभी ने अपने अपने हिसाब से हार के कारण गिनाए।बैठक के दौरान सोनिया गांधी पूरी तरह खामोश रही, जबकि प्रियंका वाड्रा लोगों से रुबरु हुईं। 
प्रियंका ने कहा कि वह सभी की बात सुनने आयी हैं और सभी का लक्ष्य कांग्रेस की मजबूती है। बैठक में सभी ने 2022 का विधानसभा चुनाव प्रियंका के नेतृत्व में लड़ने की इच्छा जताई और इसके पहले मजबूती से जुटने की बात कही। अत्यंत गोपनीय इस बैठक के बाद वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने मीडिया से कहा कि सभी का लक्ष्य 2022 में यूपी में सरकार बनाने का है। उन्होंने कहा कि नेतृत्व को सारी बात बता दी गई है। गठबंधन की बात पर उन्होंने कहा कि यह तय किया गया है कि किसी से कोई गठबंधन नहीं होगा। फतेहपुर से उम्मीदवार राकेश सचान व बांदा से चुनाव लड़े बाल कुमार पटेल ने मीडिया से कहा कि सभी बातों से नेतृत्व को अवगत करा दिया गया है। बेहद महत्वपूर्ण इस बैठक के बाद शाम को सोनिया रायबरेली के लोगों से रूबरू होंगी।
हिन्दुस्थान समाचार

 

 
Top