अपराध

Blog single photo

हरियाणा : चार करोड़ से अधिक की ठगी, हैण्डलूम दुकान मालिक फरार

04/11/2019

-कमेटी चलाकर की ठगी, 93 लोग बने शिकार

अर्जुन जग्गा

फतेहाबाद, 04 नवम्बर (हि.स.)। जिले के भूना शहर में हैण्डलूम की दुकान करने वाला एक व्यापारी टोहाना, भूना और आसपास के 93 लोगों की खून-पसीने की कमाई हड़पकर फरार हाे गया है। उसने चार करोड़ से अधिक की ठगी की है। सोमवार को पीड़ितों ने एसपी से मुलाकात कर आरोपित को तत्काल गिरफ्तार कर अपने रुपये वापस दिलाने की मांग की है। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

आरोपित दुकान मालिक का नाम मदन लाल है। उसके खिलाफ ठगी की शिकायत करने वालों में रामकुमार शर्मा ढाणी गोपाल, मिठनलाल गर्ग, हरीश कुमार खुराना, छज्जू राम टोहाना, अनिल गर्ग टोहाना, राकेश कुमार, सुभाष गर्ग, शीला गर्ग, कालूराम गोयल, इंद्राज जांगड़ा, अजय कुमार, जगदीश चंद्र, अनीता देवी टोहाना आदि शामिल है। पीड़ितों ने बताया कि मदन लाल गोयल कमेटी का बड़े स्तर पर व्यवसाय करता था। वह लोगों से कम ब्याज पर पैसा लेकर ज्यादा ब्याज पर देता था।

पीड़ितों की मानें तो गोयल पिछले कई वर्षों से सामूहिक कमेटियाें के माध्यम से करोड़ों रुपये एकत्रित करके चिटफंड कंपनी चला रहा था। वह लोगों को वर्ष 2015 से विश्वास में लेकर अपना करोड़ों का कारोबार कर रहा था। वर्ष 2018-19 का पैसा 4 करोड़ से भी अधिक लोगों का जमा हो जाने के कारण मदन लाल गोयल रातोंरात गायब हो गया। लोगों को जब उसके फरार होने का पता चला तो होश उड़ गए। कई महिलाओं ने बेटी की शादी के लिए रुपये जमा किए थे, उन सभी के सपने टूट गए।

पुलिस को दी गई तहरीर में बताया गया है कि फाइनेंस के कार्य में हैंडलूम दुकान के मालिक की पत्नी गिरिजा, भाई सज्जन तथा रतनलाल को सारी कहानी मालूम है। उनसे आरोपित के बारे में पूदताछ की गई तो उन्होंने भी उसी का साथ दिया। परिवार के लोगों ने ठगी के आरोपित को कहीं छिपा रखा है और उसे ये लोग पल-पल की जानकारी दे रहे हैं। इन सभी के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।

भूना थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह नैन ने बताया कि भूना, टोहाना और आसपास के कई लोगों ने मदन लाल गोयल पर ठगी करके पैसे हड़पने का आरोप लगाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पैसे मांगने गई महिला को पीटा
पीड़ित अनीता देवी के अनुसार उसने मदन लाल को 4 लाख 80 हजार रुपये दिए हैं। उसने अपने रुपये मांगे तो आरोपित के परिजनों ने उसके साथ मारपीट की। इसकी शिकायत पुलिस से अलग से की गई है।

अनीता देवी ने बताया कि मदनलाल उसके नजदीक का रिश्तेदार है, इसलिए विश्वास में आकर उसने उपरोक्त राशि दे दी थी। मदन की पत्नी सरकारी टीचर है। उसने और उसके दो भाइयों ने मारपीट की है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top