क्षेत्रीय

Blog single photo

थाने तक आने वाला कोई भी फरियादी निराश होकर न लौटे: ओपी सिंह

15/06/2019

देवनन्दन
लखीमपुर खीरी, 15 जून (हि.स.)। पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने शनिवार की सुबह पुलिस लाइन स्थित शिशु देखभाल केंद्र, जेल चौकी और एक एटीएम का उद्घाटन किया। इसके बाद उन्होंने पुलिस अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था को लेकर वार्ता की और निर्देश दिये। 
पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह आज सुबह करीब दस बजे अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार लखीमपुर पहुंचे। जहां उन्होंने सबसे पहले शिशु देखभाल केंद्र का उद्घाटन किया, इस केंद्र में पुलिस विभाग में तैनात महिलाओं के बच्चों की देखभाल की जाएगी। इसके बाद जेल चौकी का उद्घाटन किया, साथ ही इसके पास बने एटीएम का भी उद्घाटन किया। 
इस कार्यक्रम के बाद उन्होंने पुलिस विभाग द्वारा आयोजित एक गोष्ठी को भी संबोधित किया। इसके बाद पुलिस महानिदेशक ने जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह व पुलिस अधीक्षक पूनम के साथ पुलिस महकमे के आला अधिकारियों व क्षेत्र अधिकारियों के साथ एक बैठक की। जहां उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह यह सुनिश्चित करें कि थाने में आने वाला कोई भी फरियादी निराश होकर न लौटे। 
इसके बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि पिछले दो वर्षों में अपराध में बहुत कमी आई है। उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप पुलिस महकमा काम कर रहा है। महिला सुरक्षा को लेकर उन्होंने कहा कि हम कई नई योजनाएं बना रहे हैं, जिनसे हम महिलाओं और बच्चियों को सुरक्षित कर सकें। इसके लिए उत्तर प्रदेश को चार जोन में बांटा गया है और इसकी निगरानी चार महिला अधिकारी करेंगी, जिसकी रिपोर्ट सीधे शासन को की जाएगी। 
इस दौरान उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार जल्द ही नया हेल्पलाइन नंबर 112 का शुभारंभ करने जा रही है, यह नंबर एक देश एक नंबर की तर्ज पर चालू किया जाना है। इससे किसी को हर विभाग के अलग-अलग नंबर याद रखने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। पुलिस सहित जीआरपी, फायर ब्रिगेड व स्वास्थ्य सहित हर इमरजेंसी सेवा को इस नंबर से जोड़ने का काम चल रहा है। 
उन्होंने हंड्रेड डायल पर कहा कि इसका नाम भी बदलकर यूपी 112 कर दिया जाएगा। एक नंबर पर ही सारी शिकायतों का निस्तारण हो सकेगा। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य जहां अपराध को कम करना है तो वहीं प्रशासन व न्यायपालिका के साथ मिलकर यह सुनिश्चित करना भी है कि जल्द से जल्द हर अपराध करने वाले को सजा मिल सके। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top