क्षेत्रीय

Blog single photo

भलौर गांव हुआ मक्खीपुर के नाम से विख्यात

11/08/2019

महेन्द्र 
एसडीएम से ग्रामीणों ने लगाई गुहार, कहा-निजात नहीं मिलने पर होगा आन्दोलन
-भोजन करना मुश्किल, गांव आने से कतरा रहे पुराने रिश्तेदार भी 
कोरिया, 11 अगस्त (हि.स.)। छत्तीसगढ़ में कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ तहसील अंतर्गत भलौर गांव को अब लोग मक्खीपुर कहने लगे हैं। मक्‍ख‍ियों के आतंक से परेशान लोगों ने एसडीएम से न‍िजात द‍िलाने की गुहार लगाई है। 
एक हजार की आबादी वाले इस गांव के हर घर में मक्खियों का आतंक है। इसके चलते गांव में शादी नहीं होने की स्थिति भी निर्मित होती जा रही है। पुराने रिश्तेदार भी गांव आने से कतरा रहे हैं। भलौर ग्राम पंचायत के लोग मख्खियों से इतना परेशान हैं कि उन्हें समझ ही नहीं आ रहा है क‍ि वो किस प्रकार इस समस्या ने छुटकारा पा सकते हैं । यहां खाने का सामान हो या पीने का पानी, हर जगह मक्खियां होती हैं । इनकी भिनभिनाहट से लोग खुले में खाना तक नहीं खा पाते हैं। वे भगाने पर भी नहीं भागती हैं। इसकी वजह से लोग अक्सर उल्टी-दस्त से भी परेशान रहते हैं। गांव की सीमा पर खुले तीन पोल्ट्री फार्म को लोग मक्खियों के पनपने की वजह बताते हैं। सावधानी के बाद भी मक्खियां खाने में गिर जाती हैं। जिससे कई बच्चे खाना नहीं खा पाते हैं। 
ग्रामीणों ने इसकी शिकायत मनेन्द्रगढ़ एसडीएम से की है और मक्‍ख‍ियों से निजात दिलाने की मांग की है। लोग जल्द निजात नहीं मिलने पर आंदोलन की बात कह रहे हैं। मामले की गम्भीरता को देखते हुये एसडीएम ने जांच के आदेश दे दिये हैं और जल्द ही कार्रवाई की भी बात कही है। अगर जल्द ही ग्रामीणों को इस समस्या से छुटकारा नहीं मिला तो गांव के लोग पलायन कर जाएंगे और पूरा गांव खाली हो जाएगा।
एसडीएम आरपी चौहान से जब बात की गयी तो उन्‍होंने कहा क‍ि इसके ल‍िए जांच के आदेश द‍िए गए हैं। इसके ल‍िए योजना तैयार कर लोगों को राहत पहुंचायी जाएगी । जल्‍द ही मक्‍ख‍ियों से न‍िजात दिलाने के उपाय किये जायेंगे । 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top