अपराध

Blog single photo

मुकेश जलान और प्रेम सागर मुंडा हत्याकांड का अब तक कोई सुराग नहीं

14/03/2020

विकास पाण्डेय


रांची,14 मार्च (हि. स.)। राजधानी रांची में दो अलग-अलग हत्याकांड मामले में पुलिस के हाथ अबतक कोई सुराग नहीं लग पाया है । छह फरवरी को सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के किशोरगंज रोड में  मुकेश जलान की  हत्या और दो मार्च को प्रेम सागर मुंडा की हुई हत्या मामले कई सप्ताह बीतने के बाद भी पुलिस अपराधीयों  को नहीं पकड़ सकी है।

दोनों हत्याकांड का खुलासा करने के लिए रांची पुलिस की ओर से एसआईटी टीम का गठन किया गया है। लेकिन अबतक इस मामले में एसआइटी टीम को भी अपराधियों का सुराग नहीं मिला है। पुलिस दोनों मामले की जांच में जुटी हुई हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार मुकेश जालान की हत्या अपराधियों ने किस कारण से की अबतक स्पष्ट नहीं हो पाया है। 

मुकेश जालान हत्याकांड के मामले में रांची पुलिस महिंद्रा फाइनेंस से किसी प्रकार का विवाद या प्रेम-प्रसंग से जुड़े विवाद के बिंदू पर जांच कर रही है। मुकेश के परिजनों ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि लगभग 8 साल से मुकेश महिंद्रा फाइनेंस कंपनी में काम करता था। फाइनेंस के अलावा सीजर विभाग का भी काम वह देखता था। पुलिस वाहन सीज के दौरान विवाद को भी खंगाल रही है। हालांकि परिजनों ने अब तक किसी भी प्रकार के विवाद होने की बात से इनकार किया है। हत्या से संबंधित सीसीटीवी फुटेज पुलिस के पास है। लेकिन हत्या के महीनों बीत जाने के बाद भी रांची पुलिस इसका खुलासा नहीं कर पायी है।

उल्लेखनीय है कि सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के किशोरगंज रोड में 6 फरवरी की देर रात महिंद्रा फाइनेंस में काम करने वाले मुकेश जालान की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी।

प्रेम सागर मुंडा के हत्यारों की तलाश में बिहार में भी टीम कर रही है छापेमारी

बरियातू थाना क्षेत्र के मोराबादी स्थित होटल पार्क प्राइम के पास 2 मार्च को प्रेम सागर मुंडा की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। वह भाजपा नेता और टेरर फंडिंग मामले में भी आरोपित था। इस हत्याकांड में भी पुलिस को  अब तक कोई पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं। सीसीटीवी फुटेज में भी आया तस्वीर स्पष्ट नहीं है। पुलिस शूटरों की पहचान की कोशिश कर रही है। अब तक की जांच में पुलिस को पता चला है कि बिहार के शूटरों ने रांची आकर प्रेम सागर की हत्या की और फिर फरार हो गये। इस मामले में शामिल हत्यारों की तलाश में रांची पुलिस की टीम पिछले कई दिनों से बिहार में कैंप कर रही है। उग्रवादी संगठन टीपीसी के दक्षिणी छोटानागपुर जोनल कमेटी के विक्रांत ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा था कि प्रेम सागर मुंडा की हत्या टीपीसी ने नहीं की है। उसकी हत्या से संगठन भी दुखी है।

क्या कहते है अधिकारी

रांची के एसएसपी अनीश गुप्ता ने कहा कि दोनों ही हत्याकांड मामले में पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। पुलिस शीघ्र ही घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को गिरफ्तार करेगी। मामले में लगातार एसआईटी टीम काम कर रही है। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top