अपराध

Blog single photo

पुलिस और ग्रामीण सेवा के ड्राइवर के बीच बवाल, तीन पुलिसकर्मी निलंबित

17/06/2019

अश्वनी शर्मा
नई दिल्ली, 17 जून (हि.स.)। उत्तर पश्चिमी जिले के मुखर्जी नगर इलाके में रविवार देर रात ग्रामीण सेवा के ड्राइवर और पुलिसकर्मियों के बीच हुई मारपीट के मामले में दो एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है।
डीसीपी विजिंता आर्या के अनुसार उक्त मामले में एएसआई संजय मलिक, देवेन्द्र और कॉन्स्टेबल पुष्पेन्द्र को सस्पेंड किया गया है। उनके खिलाफ जांच शुरू की गई है।

ऐसे हुई थी घटना
रविवार देर रात ग्रामीण सेवा के ड्राइवर ने तलवार निकालकर मुखर्जी नगर थाने के एक पुलिसकर्मी को धमका दिया। बाद में उस पुलिसकर्मी ने थाने में पहुंचकर बाकी पुलिसवालों को बुला लिया। इसके बाद बीच सड़क पर तलवार लहराते हुए ड्राइवर ने पुलिसकर्मियों को खदेड़़ दिया। काबू पाने के लिए पुलिसकर्मियों को लाठी-डंडे चलाने पड़े। इस बीच ड्राइवर के लड़के ने ट्रेंपो स्टार्ट कर पुलिसकर्मियों पर चढ़ा दिया। ड्राइवर ने तलवार से एक पुलिसकर्मी का सिर फोड़ दिया, जबकि एक अन्य के पैर में चोट लगी है।
वीडियो वायरल होने पर हुआ बवाल
घटना की लोगों ने मोबाइल से अलग अलग वीडियो बना लिए। वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। ड्राइवर को काबू करने के लिए करीब एक दर्जन पुलिसकर्मियों ने उस पर लात-घूंसे और लाठी-डंडे बरसाए। यहां तक कि एक पुलिसकर्मी हाथ में पिस्टल लहराते हुए दिखाई दिया। यह सब थाने से चंद कदमों की दूरी पर राहगीरों के सामने हुआ। पुलिस का दावा किया है कि दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं, जिनमें एएसआई देवेंद्र और एएसआई योगराज हैं। इनमें योगराज की हालत गंभीर बताई जा रही है। तलवार के वार से योगराज का सिर फट गया। वहीं पुलिस की पिटाई में घायल हुए ड्राइवर की पहचान गुरजीत सिंह के रूप में हुई है। घटना के समय गुरजीत के साथ ही एक लड़के को भी पुलिसकर्मी पीटते हुए नजर आ रहे हैं।
सोशल मीडिया पर पुलिस के खिलाफ तीखी प्रतिक्रियाएं
जिस व्यक्ति को सरेआम पुलिसकर्मियों ने बुरी तरह पीटा था, वो सिख समुदाय से बताया जा रहा है। सोशल मीडिया पर इस घटना को लेकर दिल्ली पुलिस के खिलाफ तीखी प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है। काफी संख्या में रविवार देर रात सिख समुदाय के लोग एकजुट होकर विरोध जता रहे थे। वहीं घटना के बारे में पूछे जाने पर ज्वाइंट कमिश्नर मनीष अग्रवाल ने कहा कि हालात काबू में हैं और हम इस मामले में कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top