राष्ट्रीय

Blog single photo

सीबीआई ने भूमि घोटाले में लाल सिंह की पत्नी सहित 6 लोगों पर एफआईआर दर्ज की

15/09/2020

सचिन
कठुआ, 15 सितम्बर (हि.स.)। पूर्व मंत्री व डोगरा स्वाभिमान संगठन के संस्थापक चौ. लाल सिंह की पत्नी और आर.बी एजुकेशन ट्रस्ट की चेयरपर्सन कांता अंदोत्रा पर मंगलवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा सरकारी जमीन पर कब्जा करने के आरोप में उनके साथ शामिल 5 अन्य लोगों पर भी मामला दर्ज किया गया है। अन्य लोगों में तत्कालीन कठुआ के उपायुक्त अजय सिंह जम्वाल, तत्कालीन तहसीलदार मढ़हीन अवतार सिंह, नायब तहसीलदार धीरज कुमार, गिरधावर राम पाल और पटवारी सुदेश कुमार हैं।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार वर्तमान में सीबीआई आरबी एजुकेशन ट्रस्ट से जुड़े नौ स्थानों पर तलाशी ले रही है। इसके अलावा कांता अंदोत्रा और अन्य आरोपियों के निवास भी शामिल हैं, क्योंकि ट्रस्ट को राज्य की जमीन पर अतिरिक्त नुकसान पहुंचाने के कारण सरकारी खजाने को नुकसान हुआ। इस साल 25 जून को सीबीआई ने पूर्व मंत्री के परिवार द्वारा चलाए जा रहे एक शैक्षिक ट्रस्ट द्वारा भूमि हड़पने और भ्रष्टाचार के आरोपों को देखने के लिए प्रारंभिक जांच (पीई) दर्ज की थी। पीई में यह आरोप लगाया गया था कि गैर-कृषि उद्देश्यों के लिए शिक्षा ट्रस्ट को कृषि भूमि खरीदने में सक्षम करने के लिए राजस्व अधिकारियों ने झूठे प्रमाण पत्र जारी किए थे, जिसमें बताया गया था कि जेके कृषि सुधार अधिनियम के तहत छूट श्रेणी में आता है। ट्रस्ट पर जम्मू और कश्मीर एग्रेरियन रिफॉर्म्स एक्ट, 1976 के तहत निर्धारित सीलिंग के घोर उल्लंघन में जमीन के बड़े हिस्से को रखने का आरोप था।

2015 में उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका में एक सेवानिवृत्त प्रोफेसर भल्ला ने आरोप लगाया था कि आरबी एजुकेशनल ट्रस्ट, कठुआ, जो कि लाल सिंह द्वारा चलाया जा रहा है, उनके कब्जे में कठुआ के गाँव करंडी खुर्द में 316 कनाल और 17 मरले सरकारी जमीन है। इस पर जिले की हीरानगर तहसील याचिकाकर्ता ने राज्य से जम्मू-कश्मीर कृषि सुधार अधिनियम, 1976 की धारा 14 के साथ धारा 2 (1) के तहत निर्धारित सीमा से अधिक की भूमि को पुनः प्राप्त करने के लिए निर्देश देने की मांग की है। इस संबंध में उन्होंने 24 अप्रैल, 2006 को लिखे एक डीओ पत्र की ओर अदालत का ध्यान आकर्षित किया। सतर्कता आयुक्त डॉ. अशोक भान ने तत्कालीन मुख्यमंत्री को बताया कि चौधरी लाल सिंह का गाँव करंडी खुर्द, तहसील हीरानगर जिला कठुआ में 324 कनाल भूमि पर कब्जा है, जहां वह एक फार्म हाउस का निर्माण कर रहे हैं। हालांकि, एग्रेरियन रिफॉर्म्स एक्ट के प्रावधानों के तहत, एक व्यक्ति साढ़े बारह मानक एकड़ जमीन की सीमा का दावा कर सकता है, जो लगभग 100 कनाल है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top