व्यापार

Blog single photo

दो दिन में 3.98 लाख करोड़ की चपत, सेंसेक्स 435 अंक फिसला

08/07/2019

राधेश्याम 
मुंबई, 08 जुलाई (हि.स.)। वित्त वर्ष 2019-20 के आम बजट में किए गए प्रावधानों का असर शेयर बाजार में कारोबारी  सप्ताह के पहले दिन ही दिखाई दिया। सोमवार को कारोबार की शुरुआत में ही सेंसेक्स को 1.75 लाख करोड़ की चपत लग चुकी है। पिछले दो दिन में शेयर बाजार के मार्केट कैपिटलाइजेशन में 3.98 लाख करोड़ रुपये की कमी आई है। जुलाई महीने के दूसरे कारोबारी सप्ताह के पहले दिन सोमवार को भारतीय शेयर बाजार −435.54 अंकों की गिरावट के साथ लाल निशान में चला गया है। एनएसई भी -122.40 अंकों की भारी गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। शुक्रवार को भी शेयर बाजार का सेंसेक्स 395 अंक और एनएसई 86.95 अंक फिसला था।

दो दिन में गंवाए 3.98 करोड़ रुपये
शुक्रवार को केंद्रीय बजट पेश हुआ, जिसके बाद से बाजार के निवेशकों का मूड बदल गया है। भारतीय शेयर बाजार को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट नहीं भाया। बजट का मजमून समझते ही सेंसेक्स और निफ्टी में गिरावट का दौर चालू हो गया। शुक्रवार की तुलना में सेंसेक्स का बाजार पूंजीकरण सोमवार को 175210.58 करोड़ रुपये घटकर 1,49,60,285.28 करोड़ रुपये रह गया है, जबकि शुक्रवार को ही एक दिन में बाजार की हैसियत में 2.23 लाख करोड़ का नुकसान हुआ था। सोमवार को पहले दिन बाजार को 1.75 लाख करोड़ रुपये का घाटा सहना पड़ा है। 

निफ्टी-सेंसेक्स में 1 फीसदी की फिसलन
फिलहाल निफ्टी -122.40 अंक या -1.04 फीसदी की गिरावट के साथ 11,688.75 अंक पर और सेंसेक्स −435.54 अंक या 1.10 फीसदी फिसल कर 39,077.85 अंक पर ट्रेंड कर रहा है। एस एंड पी बीएसई 100 इंडेक्स -119.35 अंक या -1.00 फीसदी लुढ़ककर 11,806.67 अंक पर, एस एंड पी बीएसई का मिडकैप सूचकांक -145.70 अंक या -0.99 फीसदी की गिरावट के साथ 14,579.95 अंक पर, एस एंड पी बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स -195.18 अंक या -1.38 फीसदी फिसलकर 13,946.65 अंक पर और एस एंड पी बीएसई 200 सूचकांक -50.81 अंक या -1.03 फीसदी की लुढ़ककर 4,878.80 अंक पर कारोबार कर रहा है।

सेंसेक्स-निफ्टी की अधिकांश कंपनियां लाल
सेंसेक्स में 431 कंपनियां हरे के निशान में हैं, जबकि 1,339 कंपनियों के शेयर्स लाल निशान में चले गए हैं। बीएसई 30 इंडेक्स की पांच कंपनियों के शेयर्स में खरीदारी है, तो वहीं 25 कंपनियों के शेयर्स में बिकवाली हावी है। ए-समूह की 57 कंपनियां हरे निशान में और 396 कंपनियां लाल निशान में कारोबार कर रही हैं। बी ग्रुप की 142 कंपनियां हरे निशान में और 643 कंपनियां लाल निशान में कारोबार कर रही हैं। एनएसई 50 पर पंजीकृत 2081 कंपनियों में से 313 कंपनियों के शेयर्स हरे निशान में और 1326 कंपनियों के शेयर्स लाल निशान में ट्रेंड कर रहे हैं। एनएसई की 442 कंपनियों के शेयर्स में कोई बदलाव नहीं आया है।

कैपिटल गुड्स 2.77 फीसदी लुढ़का
शेयर बाजार के एसएंडपी बीएसई कैपिटल गुड्स में सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है। यह इंडेक्स -2.77 फीसदी की गिरावट के साथ ट्रेंड कर रहा है, जबकि एसएंडपी बीएसई इंडस्ट्रीयल इंडेक्स भी -2.26 फीसदी, एसएंडपी बीएसई ऑटो इंडेक्स -2.24 फीसदी औऱ एसएंडपी बीएसई रियल्टी इंडेक्स -2.10 फीसदी की भारी गिरावट के साथ कारोबार करते दिखाई दे रहे हैं। इसके अलावा, एस एंड पी बीएसई कन्ज्युमर डिस्क्रिशनरी गुड्स एंड सर्विस इंडेक्स में -1.84 फीसदी, एसएंडपी बीएसई कन्ज्युमर ड्यूरेबल्स इंडेक्स -1.44 फीसदी, एसएंडपी बीएसई पावर इंडेक्स -1.39 फीसदी, एसएंडपी बीएसई बैंक इंडेक्स -1.37 फीसदी, एसएंडपी बीएसई फाइनेंस सेक्टर -1.26 फीसदी, एसएंडपी बीएसई एनर्जी सेक्टर -1.18 फीसदी औऱ एसएंडपी बीएसई फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स सेक्टर -0.90 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top